Home /News /nation /

sri lanka send sos message to india for fuel lak

श्रीलंका ने भारत को भेजा इमरजेंसी संदेश, भारत से पेट्रोल, डीजल की निर्बाध आपूर्ति की मांग

श्रीलंका के उच्चायुक्त ने पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी से मुलाकात की. Twitter

श्रीलंका के उच्चायुक्त ने पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी से मुलाकात की. Twitter

Economic crisis in Sri Lanka: श्रीलंका में आर्थिक संकट का दौर थम नहीं रहा है. तेल की भारी किल्लत को देखते हुए श्रीलंका ने भारत से इमरजेंसी आधार पर तेल भेजने का संदेश भेजा है. इसके लिए श्रीलंका के हाई कमिश्नर मिलिंडा मोरोगोडा ने पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी से मुलाकात की है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. पड़ोसी मुल्क श्रीलंका अब भी बेहद बुरे दौर से गुजर रहा है. अर्थव्यवस्था कंगाली की हालत में है और देश में अब भी खाने-पीने की भारी किल्लत है. परिवहन व्यवस्था चरमरा गई है. जब से श्रीलंका में आर्थिक संकट आया है, तब से भारत ने 3 अरब डॉलर से ज्यादा की सहायता दी है लेकिन इतने से भी काम नहीं चल रहा है. फिलहाल श्रीलंका में तेल खत्म हो गया है, इसलिए भारत को आपात संदेश भेजकर तेल भेजने की गुजारिश की है. इसके अलावा श्रीलंका भारत से और अधिक डॉलर चाहता है. इस संबंध में श्रीलंका के हाई कमिश्नर मिलिंडा मोरोगोडा ने पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी से मुलाकात की है.

दो सप्ताह तक तेल की बिक्री पर रोक
एचटी की खबर के मुताबिक श्रीलंका के हाई कमिश्नर मिलिंडा मोरोगोडा ने सोमवार को केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी से मुलाकात कर अपनी ऊर्जा जरूरतों के बारे में बात की. उधर श्रीलंका में अगले दो सप्ताह तक आवश्यक सेवाओं को छोड़कर तेल बेचने पर पाबंदी लगा दी है. मोरोगोडा ने पुरी को बताया कि उनका देश ऊर्जा की गंभीर संकट से जूझ रहा है. आम लोगों को पेट्रोलियम पदार्थों की भारी किल्लत का सामना करना पड़ रहा है. इसलिए भारत श्रीलंका को तत्काल पेट्रोल और डीजल की आपूर्ति कर मदद करें. इतना ही नहीं ऐसा तरीका ढूंढें जिसमें श्रीलंका को लगातार भारत से पेट्रोलियम पदार्थ मिलता रहे.

भारत से पेट्रोल, डीजल पर लंबा सहयोग चाहता है श्रीलंका
श्रीलंकाई दूतावास द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि हाई कमिश्नर मिलिंडा मोरोगोडा ने श्रीलंका में उत्पन्न आपात ऊर्जा संकट पर पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी से मुलाकात की. मिलिंडा मोरोगोडा ने इन संभावनाओं पर भी चर्चा की है कि भारत की ओर से श्रीलंका को तत्काल आधार पर पेट्रोल और डीजल की निर्बाध आपूर्ति की जाए जिससे श्रीलंका में तेल की समस्या का स्थायी समाधान निकल सके. इसके साथ श्रीलंका ने भारत को इस बात के लिए धन्यवाद भी दिया जिसमें भारत ने इंधन खरीदने के लिए सहायता के रूप में लाइन ऑफ क्रेडिट (वह लोन जिसका इस्तेमाल लोन लेने वाला देश लोने देने वाले देश में सामान खरीदने के लिए करता है) को बढ़ा दिया है.

1 अरब डॉलर का नया लोन चाहता है श्रीलंका
श्रीलंका को तत्काल ऊर्जा संकट से उबारने के लिए भारत किस तरह से अपनी मदद का विस्तार कर सकता है, इसके तौर-तरीकों पर भी दोनों नेताओं के बीच बात हुई. इस परिप्रेक्ष्य में श्रीलंका पेट्रोलियम, गैस और तेल के क्षेत्र में लंबे समय तक भारत के साथ संबंध स्थापित करना चाहता है. श्रीलंका आर्थिक संकट से उबरने के लिए भारत से 1 अरब डॉलर का नया मुद्रा विनिमय चाहता है. इसके अलावा तेल खरीदने के लिए 50 करोड़ डॉलर का लाइन ऑफ क्रेडिट मांग रहा है. हालांकि भारत ने अब तक श्रीलंका की इस मांग पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. भारत ने मानवीय और आर्थिक सहायता के रूप में अब तक श्रीलंका को 3.5 अरब डॉलर की मदद दे चुका है.

Tags: India, Sri lanka

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर