लाइव टीवी

श्रीलंका के PM महिंदा राजपक्षे चार दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे, इन मुद्दों पर होगी बातचीत

भाषा
Updated: February 7, 2020, 8:09 PM IST
श्रीलंका के PM महिंदा राजपक्षे चार दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे, इन मुद्दों पर होगी बातचीत
श्रीलंका के PM महिंदा राजपक्षे चार दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे.

श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे (Mahinda Rajapaksa) इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi), राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद और विदेश मंत्री एस जयशंकर से भी मुलाकात करेंगे.

  • Share this:
नई दिल्ली. श्रीलंका (Sri lanka) के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे (Prime Minister Mahinda Rajapaksa) चार दिवसीय राजकीय यात्रा पर शुक्रवार को भारत पहुंचे. राजपक्षे की इस यात्रा के दौरान दोनों देश व्यापार, रक्षा एवं समुद्री सुरक्षा सहयोग समेत कई अहम मुद्दों पर बातचीत करेंगे. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, 'प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निमंत्रण पर श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे का पदभार संभालने के बाद पहली विदेश यात्रा पर भारत आगमन पर गर्मजोशी भरा स्वागत.'

राजपक्षे 7 से 11 फरवरी तक भारत यात्रा पर
उन्होंने कहा कि शीर्ष स्तर पर सतत आदान प्रदान भारत-श्रीलंका संबंधों को ऊर्जा प्रदान करना जारी रखेंगे. श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे 7 से 11 फरवरी तक भारत की यात्रा पर रहेंगे और इस दौरान वे दोनों देशों के संबंधों के विविध आयामों पर व्यापक चर्चा करेंगे.

राजपक्षे वाराणसी, सारनाथ, बोधगया और तिरूपति भी जायेंगे
विदेश मंत्रालय के अनुसार, श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे का सरकारी कार्यक्रम 8 फरवरी से शुरू होगा. उनके साथ एक उच्च स्तरीय शिष्टमंडल भी आ रहा है. राजपक्षे अपनी यात्रा के दौरान यहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शिष्टमंडल स्तर की बैठक करेंगे. वे अपनी यात्रा के दौरान वाराणसी, सारनाथ, बोधगया और तिरूपति भी जायेंगे.

राष्‍ट्रपति कोविंद से भी करेंगे मुलाकात
महिंदा राजपक्षे यहां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी मिलेंगे. विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ भी उनकी बैठक होगी. उप-क्षेत्रीय समुद्री सुरक्षा सहयोग बढ़ाने के लक्ष्य के साथ दोनों देशों के प्रतिनिधिमंडलों के बीच रक्षा एवं समुद्री सुरक्षा पहलों के तहत अहम मुद्दों पर चर्चा होने की उम्मीद है. इन पहलों में श्रीलंका-भारत वार्षिक रक्षा वार्ता और भारत एवं मालदीव के साथ त्रिपक्षीय समुद्री सुरक्षा सहयोग शामिल है.

व्यापार, सुरक्षा समेत विविध मामलों पर होगी वार्ता
महिंदा राजपक्षे के छोटे भाई गोटबाया राजपक्षे के नवंबर में राष्ट्रपति चुने जाने के बाद से यह उनकी पहली विदेश यात्रा होगी. महिंदा के कार्यालय ने एक बयान में कहा, 'तय बैठकें दोनों देशों के बीच पहले से मौजूद संबंधों को आगे बढ़ाएंगी.' बयान में कहा गया है कि महिंदा को 45 करोड़ डॉलर की उस ऋण सुविधा के क्रियान्वयन को अंतिम रूप दिए जाने की उम्मीद है जिसका प्रधानमंत्री मोदी ने नवंबर में नयी दिल्ली में गोटबाया की यात्रा के दौरान वादा किया था.

ये भी पढ़ें: क्या है बोडो समझौता, जिसके जश्न में शामिल होने असम जा रहे हैं पीएम मोदी

ये भी पढ़ें: राज्यसभा: PM मोदी ने गिनाया- अनुच्‍छेद 370 के बाद J&K में पहली बार क्‍या-क्‍या हुआ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 7:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर