मलाला को नोबेल पुरस्कार पर बोले श्रीश्री, उस लड़की ने किया ही क्या था!

मलाला को नोबेल पुरस्कार पर बोले श्रीश्री, उस लड़की ने किया ही क्या था!
आर्ट आफ लिविंग के संस्थापक और आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर एक बार फिर सुर्खियों में हैं। इस बार नोबेल पुरस्कार को लेकर दिए गए एक बयान ने श्रीश्री को चर्चा में ला दिया है।

आर्ट आफ लिविंग के संस्थापक और आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर एक बार फिर सुर्खियों में हैं। इस बार नोबेल पुरस्कार को लेकर दिए गए एक बयान ने श्रीश्री को चर्चा में ला दिया है।

  • Share this:
मुंबई। आर्ट आफ लिविंग के संस्थापक और आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर एक बार फिर सुर्खियों में हैं। इस बार पुरस्कार को लेकर दिए गए एक बयान ने श्रीश्री को चर्चा में ला दिया है। एक समाचार एजेंसी के मुताबिक श्रीश्री ने कहा है कि उन्होंने शांति का नोबेल पुरस्कार ठुकरा दिया था। उन्होंने कहा कि मेरे लिए पुरस्कार की कोई वैल्यू नहीं है। अब ये पुरस्कार पॉलिटिकल हो गए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने पाकिस्तानी छात्रा मलाला यूसुफजई को यह प्रतिष्ठित पुरस्कार दिए जाने की भी आलोचना की।

एजेंसी के मुताबिक 59 वर्षीय श्रीश्री को नोबेल शांति पुरस्कार का प्रस्ताव मिला था, जिसे उन्होंने ठुकरा दिया। श्रीश्री ने कहा था कि वे सिर्फ काम करने में विश्वास रखते हैं। सम्मान के लिए वह काम नहीं करते। श्रीश्री ने कहा था कि हमें हमेशा उन्हें ही पुरस्कार देना चाहिए, जो इसके लायक हैं और मैं मलाला यूसुफजई को भी यह सम्मान दिए जाने के खिलाफ हूं और यह किसी काम का नहीं।


दावा किया जा रहा कि महाराष्ट्र के लातूर में सूखाग्रस्त इलाकों के दौरे के दौरान श्रीश्री ने यह बयान दिया था। इससे पहले श्रीश्री ने कहा था कि वे आईएसआईएस से भी वार्ता करना चाहते थे, लेकिन उन्होंने धमकी दे दी थी। गौरतलब है कि इससे पहले श्रीश्री दिल्ली में यमुना किनारे विश्व सांस्कृतिक महोत्सव के आयोजन को लेकर भी सुर्खियों में थे। उन पर यमुना को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगा था।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज