किताब पढ़ने की उम्र में किताब का हिस्सा बनीं 'जन्नत', 2 साल में की डल झील की सफाई

फोटो साभारः ANI
फोटो साभारः ANI

Story of a 7-yr-old Jannat who has been cleaning Dal lake: इस बच्ची की कहानी को हैदराबाद स्थित स्कूल ने पाठ्यक्रम में शामिल किया है. इसमें जन्नत के संघर्ष और उनके सफाई के जज्बे की पूरी कहानी प्रकाशित की गई है. पाठ्यक्रम में अपना नाम देख जन्नत काफी खुश हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली/कश्मीर. धरती (Earth) के स्वर्ग कहे जाने वाले जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) का दीदार हर कोई करना चाहता है. हर साल लाखों की संख्या में टूरिस्ट कश्मीर के उन हिस्सों को देखने के लिए आते हैं, जो प्राकृतिक सौंदर्य से लबरेज हैं. इन्हीं में शामिल है श्रीनगर की डल झील (Dal lake). टूरिस्ट और अन्य लोगों के कारण गंदी हुई डल झील को एक 7 साल की बच्ची ने साफ किया है. इस बच्ची का नाम जन्नत है. झील को साफ करने में बच्ची को 2 साल का वक्त लगा है.

अब इस बच्ची की कहानी को हैदराबाद स्थित स्कूल ने पाठ्यक्रम में शामिल किया है. इसमें जन्नत के संघर्ष और उनके सफाई के जज्बे की पूरी कहानी प्रकाशित की गई है. पाठ्यक्रम में अपना नाम देख जन्नत काफी खुश हैं और उन्होंने कहा, "मैं अपने पिता से प्रेरित हूं. झील को साफ करने के लिए मुझे मेरे बाबा के कारण ही पहचान मिल रही है." दो साल से जन्नत रोज स्कूल से आकर अपने पिता के साथ छोटी सी बोट में बैठकर डल में पड़ी गंदगी को इकट्ठा कर उसे ठिकाने लगाती हैं.
ये भी पढ़ेंः- पत्थर पर रेंगता दिखा अजीबो-गरीब जानवर, लोग बोले सांप....लेकिन देखिए Viral Videoप्रधानमंत्री मोदी भी हुए प्रभावितबता दें कि जन्नत की प्रधानमंत्री मोदी ने भी तारीफ की थी. 2018 में प्रधानमंत्री ने अपने ट्विटर पर जन्नत का वीडियो शेयर कर उनके काम की सरहाना की थी.जन्नत कहती हैं, 'मैंने अपने बाबा (पिता) के साथ मिलकर सफाई शुरू की थी लेकिन यह बहुत कम है. सिर्फ इतनी सफाई से कुछ नहीं होगा. झील में बहुत ज्यादा कूड़ा है. मैं बच्चों से कहना चाहती हूं कि बोट लेकर निकलें और झील की सफाई करें. यह झील खूबसूरत है लेकिन इसमें गंदगी है. हमें मिलकर इसे साफ करना है.'हैदराबाद के पाठ्यक्रम में जन्नत का नाम शामिल होने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स बच्ची की काफी तारीफ कर रहे हैं. एक यूजर ने लिखा ये बच्ची भाषण नहीं दे सकती है, लेकिन पर्यावरण को सुरक्षित रख सकती है.ये भी पढ़ेंः- बैल की समझदारी का कायल हुआ सोशल मीडिया, यूजर्स ने कहा, 'ये आत्मनिर्भर है', देखें Videoवहीं, एक यूजर का कहना है कि ये अतुल्य भारत की निशानी है.
वहीं, कुछ यूजर्स का कहना है कि जैसा बच्ची का नाम है जन्नत वैसे ही उसके काम जन्नत वाले हैं. ये बच्ची वाकई लाखों लोगों के लिए प्रेरणा का स्त्रोत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज