होम /न्यूज /राष्ट्र /श्रीनगर: मुहर्रम का जुलूस रोकने के लिए कई इलाकों में कर्फ्यू जैसी पाबंदियां, जानें डिटेल्स

श्रीनगर: मुहर्रम का जुलूस रोकने के लिए कई इलाकों में कर्फ्यू जैसी पाबंदियां, जानें डिटेल्स

मुहर्रम 10 दिन तक मनाया जाने वाला शोक है. (फाइल फोटो)

मुहर्रम 10 दिन तक मनाया जाने वाला शोक है. (फाइल फोटो)

Jammu Kashmir, Srinagar, Muharram procession: अधिकारियों ने बताया कि किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए सुरक्षा बलों को ...अधिक पढ़ें

श्रीनगर: श्रीनगर (Srinagar News) में अधिकारियों ने शिया समुदाय के लोगों को मुहर्रम का जुलूस (Muharram Procession) निकालने से रोकने के लिए कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लागू की हैं. अधिकारियों ने बताया कि श्रीनगर शहर के कई इलाकों में लोगों की आवाजाही तथा उनके एकत्रित होने पर पाबंदियां लगायी गयी हैं.

उन्होंने बताया कि मुहर्रम के आठवें दिन कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए पाबंदियां लगायी गयी हैं. मुहर्रम 10 दिन तक मनाया जाने वाला शोक है.

अधिकारियों ने बताया कि किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है. जिन इलाकों में पाबंदियां लगायी गयी हैं, वहां दुकानें तथा अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद हैं जबकि सार्वजनिक वाहन सड़कों से नदारद हैं.

उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन ने कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए कुछ मार्ग पर मुहर्रम का जुलूस नहीं निकालने देने का फैसला किया है.

कानून एवं व्यवस्था की स्थिति शीर्ष प्राथमिकता
पूर्व में हुई हिंसा की घटना का हवाला देते हुए श्रीनगर के जिला मजिस्ट्रेट ने कहा कि जनहित तथा नागरिकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कानून एवं व्यवस्था की स्थिति सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है.

उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण रूप से मुहर्रम का जुलूस निकालने के लिए वैकल्पिक मार्ग पहले ही उपलब्ध कराए गए हैं. उन्होंने आगाह किया कि किसी तरह के उल्लंघन की स्थिति में सुरक्षा एजेंसियां कानून के तहत इस मामले पर संज्ञान लेंगी.

मुहर्रम के आठवें दिन पारंपरिक जुलूस इन इलाकों से गुजरता था, लेकिन 1990 में आतंकवाद के सिर उठाने के बाद से इन पर प्रतिबंध लगा दिया गया.

Tags: Jammu kashmir, Muharram Procession, Srinagar

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें