होम /न्यूज /राष्ट्र /PM मोदी के लुंबिनी दौरे से पहले SSB और यूपी पुलिस ने भारत-नेपाल सीमा पर बढ़ाई चौकसी

PM मोदी के लुंबिनी दौरे से पहले SSB और यूपी पुलिस ने भारत-नेपाल सीमा पर बढ़ाई चौकसी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लुंबिनी दौरे को ध्यान में रखकर भारत-नेपाल सीमा पर एसएसबी ने निगरानी बढ़ा दी है. (File Photo)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लुंबिनी दौरे को ध्यान में रखकर भारत-नेपाल सीमा पर एसएसबी ने निगरानी बढ़ा दी है. (File Photo)

उत्तर प्रदेश नेपाल के साथ 599.3 किलोमीटर लंबी खुली सीमा साझा करता है, जो सात जिलों पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, बहराइच, श्राव ...अधिक पढ़ें

    महाराजगंज: बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेपाल के लुंबिनी दौरे से पहले उत्तर प्रदेश पुलिस और सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) ने भारत-नेपाल सीमा पर चौकसी तेज कर दी है. अधिकारियों ने कहा कि मुख्य रूप से रात में होने वाली घुसपैठ को रोकने के लिए निगरानी की जा रही है. नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा के निमंत्रण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 मई को लुंबिनी की आधिकारिक यात्रा पर जाएंगे. 2014 के बाद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यह 5वीं नेपाल यात्रा होगी.

    गोरखपुर सेक्टर के उप महानिरीक्षक (डीआईजी) सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) मंजीत सिंह पड्डा ने बताया कि इलाके में आतंकवादियों की किसी भी गतिविधि को रोकने के लिए सुरक्षा एजेंसियों को सीमा पार करने से पहले लोगों की पहचान करने के लिए कहा गया है. उन्होंने बताया कि नेपाल जाने वाले मुख्य मार्गों के अलावा एसएसबी चौकी पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. एसएसबी के नशीले पदार्थों, हथियारों और महिलाओं की तस्करी रोधी शाखा के प्रशिक्षित श्वान दस्ते को भी तैनात किया गया है. नेपाल सीमा पर मुख्य चेकपोस्ट सोनौली और थुतिबाड़ी में मेटल डिटेक्टर और बैगेज स्कैनर लगाए गए हैं.

    उन्होंने बताया कि एसएसबी ने मुख्य रूप से रात में होने वाली घुसपैठ को रोकने के लिए सीमा पर चौकसी तेज कर दी है और कर्मियों को पूरे सीमा क्षेत्र में गश्त के दौरान 24 घंटे सतर्क रहने को कहा गया है. खुफिया इकाइयों को सीमा से लगे धार्मिक स्थलों पर भी नजर रखने को कहा गया है. पड्डा ने बताया कि सशस्त्र सीमा बल और नेपाल के साथ सीमा साझा करने वाले महाराजगंज, सिद्धार्थ नगर और बलरामपुर जिलों में पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है. उत्तर प्रदेश नेपाल के साथ 599.3 किलोमीटर लंबी खुली सीमा साझा करता है, जो सात जिलों पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थ नगर और महाराजगंज से सटी है.

    प्रधानमंत्री मोदी का विमान 16 मई को कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर लैंड करेगा. यहां से वह हलीकॉप्टर से लुंबिनी पहुंचेंगे. इससे पहले पीएम कुशीनगर में भगवान बुद्ध के महापरिनिर्वाण स्थल का दौरा करेंगे. बुद्ध पुर्णिमा के मौके पर ही प्रधानमंत्री लुंबिनी की यात्रा पर जा रहे हैं. लुंबिनी भगवान बुद्ध का जन्मस्थल है. वह यहां मायादेवी मंदिर जाएंगे और पूजा अर्चना करेंगे. नेपाल के प्रधानमंत्री देउबा पीएम मोदी के सम्‍मान में भोज भी आयोजित करेंगे. पीएम मोदी लुंबिनी के मठ क्षेत्र में बौद्ध संस्कृति और विरासत के लिए एक केंद्र के निर्माण की आधारशिला भी रखेंगे.

    Tags: India Nepal Relation, Nepal, PM Modi

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें