Home /News /nation /

सबरीमाला: शाह ने दिया प्रदर्शनकारियों का साथ, विजयन ने कहा बीजेपी का एजेंडा हुआ एक्सपोज

सबरीमाला: शाह ने दिया प्रदर्शनकारियों का साथ, विजयन ने कहा बीजेपी का एजेंडा हुआ एक्सपोज

अमित शाह (File Photo)

अमित शाह (File Photo)

शाह के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने कहा कि अमित शाह को याद रखना चाहिए कि हमारी सरकार बीजेपी की दया से नहीं बल्कि जनादेश से सत्ता में आई है.

    बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को अपने केरल दौरे के दौरान सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर अपना रुख स्पष्ट किया. बीजेपी अध्यक्ष ने प्रदर्शनकारियों का समर्थन करते हुए कहा कि वे सबरीमाला के भक्तों के साथ चट्टान की तरह खड़े हैं.

    अमित शाह के इस बयान पर केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस बयान ने बीजेपी के एजेंडा को एक्सपोज कर दिया है. उन्होंने कहा की बीजेपी अध्यक्ष का बयान सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ है.

    एएनआई के अनुसार विजयन ने कहा, “कन्नूर में दिया गया शाह का बयान संविधान और देश के कानून के खिलाफ है. यह उनका स्पष्ट एजेंडा है कि मौलिक अधिकारों की गारंटी नहीं है. यह आरएसएस और संघ परिवार के एजेंडे को दिखाता है.”

    उन्होंने आगे कहा, “अमित शाह जिन्होंने हमारी सरकार को गिराने की धमकी दी उन्हें याद रखना चाहिए कि यह सरकार बीजेपी की दया से नहीं बल्कि जनादेश से सत्ता में आई है. उनका बयान जनादेश की अवेहलना है.”

    ये भी पढ़ें: केरल सरकार को शाह की चेतावनी- भक्तों के साथ खड़ी है BJP, फैसले के नाम पर क्रूरता बर्दाश्त नहीं

    केरल के वित्त मंत्री थॉमस इस्साक ने सीएनएन न्यूज18 से बात करते हुए कहा कि यह राज्य सरकार का कर्तव्य है कि वह एक्शन ले. उन्होंने कहा, “सुप्रीम कोर्ट के फैसले का दुरुपयोग कहां किया गया? सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है और हम इसका पालन करेंगे.”

    बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सभी उम्र की महिलाओं को सबरीमला मंदिर में प्रवेश देने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश को लागू करने के माकपा नीत एलडीएफ सरकार के फैसले का विरोध करने वाले श्रद्धालुओं को अपना पूर्ण समर्थन देते हुए आरोप लगाया कि वामपंथी सरकार प्रदर्शनों को ताकत के बल पर ‘‘दबाना’’ चाहती है.

    शाह ने कहा कि प्रदेश सरकार श्रद्धालुओं के प्रदर्शन को चुनौती देने के लिये पुलिस बल का इस्तेमाल कर रही है.

    बीजेपी अध्यक्ष ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और संघ परिवार के कार्यकर्ताओं समेत प्रदेश भर में सभी वर्ग की महिलाओं के मंदिर में प्रवेश के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे 2000 से ज्यादा श्रद्धालुओं की गिरफ्तारी की भी आलोचना की. अपने संबोधन की शुरुआत ‘स्वामी शरणम अयप्पा’ के मंत्र से करते हुए उन्होंने कहा कि अगर विरोध प्रदर्शनों को दबाया जाना जारी रहा तो मुख्यमंत्री पिनराई विजयन को ‘‘भारी कीमत’’ चुकानी होगी.

    ये भी पढ़ें: सबरीमाला: 2000 लोगों की गिरफ्तारी पर HC सख्त, सरकार से कहा- भारी कीमत चुकानी पड़ेगी

    विजयन को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का विरोध प्रदर्शन को दबाना ‘‘आग से खेलने’’ के तुल्य है. उन्होंने कहा, ‘‘सुप्रीम कोर्ट के फैसले के क्रियान्वयन के नाम पर मुख्यमंत्री को बर्बरता बंद करनी चाहिए.’’ शाह ने कहा कि प्रदेश में महिलाएं भी उच्चतम न्यायालय के आदेश के क्रियान्वयन के खिलाफ हैं.

    बीजेपी अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि वामपंथी सरकार सबरीमला मंदिर को ‘‘बर्बाद’’ करने की कोशिश कर रही है और उनकी पार्टी माकपा के नेतृत्व वाली सरकार को ‘‘हिंदु धर्म को दांव पर नहीं लगाने देगी’’. शाह ने कहा, ‘‘किसी भी दूसरे अयप्पा मंदिर में महिलाओं के पूजा करने पर कोई पाबंदी नहीं है. सबरीमला मंदिर की विशिष्टता को बचाए रखना चाहिए.’’

    उन्होंने कहा, ‘‘कम्युनिस्ट सरकार मंदिरों के खिलाफ साजिश रच रही है. उन्होंने केरल में आपातकाल जैसी स्थिति बना दी है.’’

    शाह ने वामपंथी सरकार द्वारा पूर्व के कई अदालती आदेशों को लागू न किए जाने के मामलों को भी याद का और कहा कि कोर्ट के आदेश का क्रियान्वयन लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखकर किया जाना चाहिए.

    ये भी पढ़ें: कौन है वो 'पंडलम रॉयल फैमिली' जो सबरीमाला का मालिक होने का दावा करती है

    Tags: Amit shah, BJP, Kerala, Pinarayi Vijayan, RSS, Sabrimala, Supreme Court

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर