ऑटो चालक पर था 200 करोड़ रुपये की टैक्‍स चोरी का शक, GST अधिकारियों ने मारा छापा

सुरेश गोहिल का कहना है कि उसने तीसरी क्लास तक पढ़ाई की है और उसे जीएसटी का मतलब तक नहीं पता है.

News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 6:22 PM IST
ऑटो चालक पर था 200 करोड़ रुपये की टैक्‍स चोरी का शक, GST अधिकारियों ने मारा छापा
सुरेश गोहिल का कहना है कि उसने तीसरी क्लास तक पढ़ाई की है और उसे जीएसटी का मतलब तक नहीं पता है.
News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 6:22 PM IST
गुजरात के भरुच जिले से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. भरुच में जीएसटी विभाग की टीम ने टैक्स चोरी के शक में एक टेंपो चालक के घर छापेमारी की. जीएसटी अधिकारियों ने 200 रुपये की टैक्स चोरी के मामले में सुरेश गोहिल नाम के टेंपो ड्राइवर के घर छापा मारा.

स्टेट सर्विस एंड गुड्स टैक्स (SGST) की छापेमारी से टेंपो चालक और उनका परिवार भी हक्का-बक्का रह गए. दरअसल सुरेंद्र भरुच में टेंपो चलाकर किसी तरह अपने परिवार का गुज़ारा करते हैं. उनकी रोज की कमाई करीब 200 रुपये होती है. ऐसे में जब जीएसटी विभाग की ऐसी कार्रवाई ने उसे हैरान कर दिया. काफी देर तक सर्च ऑपरेशन चलाने के बाद अधिकारियों को सुरेश के घर से कुछ भी नहीं मिला.

टपकती छत के नीचे रहता है परिवार
टेंपो चलाकर घर का पालन-पोषण करने वाले सुरेश टूटे हुए मकान में रहते हैं. बारिश होने पर उन्हें और उनके परिवार को टपकती छत के नीचे रहना पड़ता है.

जीएसटी विभाग के अधिकारियों ने बताया कि सुरेश किसी गोहिल कंसल्टेंट कंपनी का मालिक है. उसकी कंपनी ऑनलाइन रजिस्टर्ड है. इतना ही नहीं उसकी कंपनी ने 200 करोड़ रुपये का टैक्स नहीं भरा है. हालांकि सुरेश गोहिल के घर छापेमारी में अधिकारियों को कुछ भी नहीं मिला.

कंपनी के कागज़ों पर थी टेंपो ड्राइवर की डीटेल्स
बता दें जीएसटी के अधिकारियों ने ये छापेमारी जिन दस्तावेजों के चलते की थी उन पर इसी टेंपो ड्राइवर की डीटेल्स थी. अब ये अधिकारी इस बात की जांच कर रहे हैं कि आखिर गोहिल कंसल्टेंट कंपनी का असली मालिक कौन है और उसके पास इस टेंपो ड्राइवर के कागज़ कहां से आए.
Loading...

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो सुरेश गोहिल का कहना है कि उसने तीसरी क्लास तक पढ़ाई की है और उसे जीएसटी का मतलब तक नहीं पता है.

अलीगढ़ से भी आया था इसी तरह का मामला
बता दें कुछ समय पहले उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले से इसी तरह का एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ था. यहां वाणिज्य कर विभाग की टीम ने जांच में एक छोटे से कचौड़ी व्यापारी के 60 लाख सालाना टर्न ओवर होने के मामले का खुलासा किया था. विभाग को शक था कि उसका सालाना टर्न ओवर एक करोड़ के भी पार हो सकता है. जिसे बाद दुकानदार को नोटिस जारी कर दिया गया था.

छोटी सी दुकान में कचौड़ी बेचने वाला निकला करोड़पति, सालाना टर्न ओवर जानकर रह जाएंगे हैरान!

ये भी पढ़ें-
बैंकिंग धोखाधड़ी मामले में सीबीआई ने 50 स्थानों पर मारा छापा

आजादी के इस सिपाही को 40 साल के संघर्ष के बाद मिली पेंशन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 2, 2019, 6:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...