• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • गृह मंत्रालय ने कहा- जरूरी चीजों की होम डिलीवरी सुनिश्चित करने की दिशा में काम कर रहीं राज्य सरकारें

गृह मंत्रालय ने कहा- जरूरी चीजों की होम डिलीवरी सुनिश्चित करने की दिशा में काम कर रहीं राज्य सरकारें

गृह मंत्रालय ने कहा जरूरतमंदों और बंद की वजह से फंसे हुए लोगों को भोजन मुहैया कराने के उपायों पर उन्होंने कहा, "कुछ स्थानों में सेना की यूनिट भी आगे आई हैं."

गृह मंत्रालय ने कहा जरूरतमंदों और बंद की वजह से फंसे हुए लोगों को भोजन मुहैया कराने के उपायों पर उन्होंने कहा, "कुछ स्थानों में सेना की यूनिट भी आगे आई हैं."

कोरोना वायरस (Coronavirus) को फैलने से रोकने के लिए राज्य सरकारों ने अनेक जिलें में ऐसे क्षेत्रों की पहचान की है जो संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित है. ऐसे क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के घरों से निकलने पर सख्त पाबंदी है और पुलिस तथा अधिकारी लगातार वहां नजर बनाए हुए हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. विभिन्न राज्यों की सरकारें कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण से बेहद प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों की जरूरत का सामान उनके घरों तक पहुंचाना सुनिश्चित करने की दिशा में काम कर रही हैं. केन्द्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) में संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव (Punya Salila Srivastava) ने संवाददाताओं को बताया कि उनके मंत्रालय ने राज्यों और केन्द्र शासित क्षेत्रों से फिर कहा है कि सभी प्रकार की वस्तुओं को राज्यों के अंदर और राज्यों के बाहर लाने ले जाने की अनुमति है और उन्हें ले जा रहे वाहनों को बिना रोक टोक जाने दिया जाए.

    उन्होंने कहा,‘‘राज्य सरकारें यह सुनिश्चित करने की दिशा में काम कर रही हैं कि जो स्थान संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित हैं वहां घरों तक जरूरत का सामान पहुंचाया जाए ताकि लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकलें.’’ उन्होंने कहा,‘‘इसके लिए वे (राज्य सरकार के अधिकारी) स्वंयसेवियों और नागरिक संस्थाओं की भी मदद ले रहे है.’’

    कई जिले संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित
    गौरतलब है कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए राज्य सरकारों ने अनेक जिलें में ऐसे क्षेत्रों की पहचान की है जो संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित है. ऐसे क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के घरों से निकलने पर सख्त पाबंदी है और पुलिस तथा अधिकारी लगातार वहां नजर बनाए हुए हैं.

    श्रीवास्तव ने कहा कि गृह मंत्रालय ने राज्यों और केन्द्र शासित क्षेत्रों को पुन: यह स्पष्ट किया है कि राज्यों के अंदर और राज्यों के बाहर सामान की आवाजाही पर कोई पाबंदी नहीं है फिर चाहे वह जरूरत का सामान हो या कोई अन्य सामान. उन्होंने कहा कि राज्य के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि आवश्यक वस्तु उत्पाद इकाइयों के कर्मचारियों और कामगारों को आसानी से पास मिलें, ताकि इन इकाइयों के काम में कोई बाधा नहीं पहुंचे.

    जरूरतमंदों और बंद की वजह से फंसे हुए लोगों को भोजन मुहैया कराने के उपायों पर उन्होंने कहा,‘‘कुछ स्थानों में सेना की यूनिट भी आगे आई हैं.

    देश में स्थिति नियंत्रण में
    देश में आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है. संयुक्त सचिव ने कहा,‘‘गृह मंत्रालय के नियंत्रण कक्ष में उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय,रेलवे, नागरिक उड्डयन मंत्रालय के प्रतिनिधि तथा अन्य अधिकारी साजो सामान से संबंधित सभी समस्याओं को राज्य सरकारों के साथ मिल कर सुलझा रहे हैं.’’

    उन्होंने साइबर अपराध खासतौर पर आर्थिक अपराधों से बचने के लिए जानकारी जुटाने के वास्ते लोगों से गृह मंत्रालय के ट्विटर हैंडल ‘सायबर दोस्त’ को फॉलो करने का अनुरोध किया. उन्होंने कहा कि बंद के कारण बहुत से लोग घरों से दफ्तरों का काम कर रहे हैं ऐसे में साइबर अपराध की घटनाएं बढ़ी हैं.

    श्रीवास्तव ने कहा कि लोग साइबर अपराध के संबंध में कोई भी शिकायत सरकारी पोर्टल साइबरक्राइमडॉटजीओवीडॉटइन पर कर सकते हैं.

    ये भी पढ़ें-
    दिल्ली के बारे में 80 भू-वैज्ञानिकों ने दी है ये है रिपोर्ट, यहीं था एपिसेंटर

    कोरोना संकट पर पासवान का आश्वासन- गोदामों में है 9 महीनों के लिए पर्याप्त अनाज

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज