कोरोना वायरस: बुखार और जुकाम की दवा खरीदने वालों का रिकॉर्ड रखेंगे मेडिकल स्टोर- राज्य सरकारों का आदेश

कोरोना वायरस: बुखार और जुकाम की दवा खरीदने वालों का रिकॉर्ड रखेंगे मेडिकल स्टोर- राज्य सरकारों का आदेश
ऐसी दवा खरीदने वालों का पूरा रिकॉर्ड रखा जाएगा. (प्रतीकात्मक)

कहा जा रहा है कि कोरोना (Coronavirus) के कई मरीज़ इसके लक्षण को कम करने के लिए इन दवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 19, 2020, 7:55 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज़ों पर नजर रखने के लिए देश के कम से कम चार राज्यों ने मेडिकल स्टोर को बुखार, सर्दी और जुकाम की दवा खरीदने वालों का रिकॉर्ड रखने के आदेश दिए हैं. इसके तहत दवा दुकानदारों (Pharmacy) को ग्राहक का नाम, पता और मोबाइल नंबर नोट करने को कहा गया है. आदेश देने वाले राज्य हैं- तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, बिहार और महाराष्ट्र. आंध्र और तेलंगाना सरकार ने कहा है कि लिस्ट देखकर दवा खरीदने वालों को ट्रैक किया जाएगा, जिससे कि उसका कोरोना टेस्ट (Corona Test) किया जा सके.

क्या लोग छुपा रहे हैं कोरोना के लक्षण
कहा जा रहा है कि कोरोना के कई मरीज़ इसके लक्षण को कम करने के लिए इन दवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं. दरअसल ऐसे लोग कोरोना के टेस्ट से डर रहे हैं. उन्हें लगता है कि पॉजिटिव पाए जाने पर उन्हें कम से कम दो हफ्ते के लिए अस्पतालों में रहना पड़ सकता है या फिर उन्हें क्वारंटाइन में भेजा जा सकता है. इसी डर से लोग पैरासिटामोल और सर्दी जुकाम की बाक़ी दवाइयां खा रहे हैं.

तेलंगाना से आए कई ऐसे मामले
अंग्रेजी अखबार द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, तेलंगाना में कई ऐसे मामले सामने आए हैं, जहां पता चला कि लोग खुद बुखार की दवा खा कर घर में थे लेकिन बाद में टेस्ट होने पर उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई. ऐसे में यहां की राज्य सरकार ने मेडिकल स्टोर चलाने वालों की तुरंत बैठक बुलाई और फिर यहां ये फैसला लिया गया कि आगे से ऐसी दवा खरीदने वालों का पूरा रिकॉर्ड रखा जाएगा.



डॉक्टर की पर्ची जरूरी
महाराष्ट्र के पुणे में भी दवा दुकानदारों को ऐसे रिकॉर्ड रखने को कहा गया गया है. साथ ही यहां ये भी आदेश दिया गया है कि बिना डॉक्टर की पर्ची के ऐसी दवा न दी जाए. हर मेडिकल स्टोर को रात 8 बजे तक रिपोर्ट भेजने को कहा गया है. बिहार सरकार ने भी समय-समय पर ये रिपोर्ट भेजने को कहा है.

ये भी पढ़ें:

देश में एक दिन में रिकॉर्ड 2000 से ज्यादा नए केस, जानें अपने राज्य का हाल

पाक के काले सच का खुलासा: घटिया फाइबर से बने करतारपुर के गुंबद आंधी में उड़े
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज