COVID-19: आज से कुछ राज्यों में 18+ को लगनी शुरू हुई कोरोना वैक्सीन, कुछ में होगी देरी, जानें अपने यहां का हाल

देश के कुछ राज्यों में आज से नए चरण की टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू नहीं हो सकेगी. (प्रतीकात्मक)

देश के कुछ राज्यों में आज से नए चरण की टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू नहीं हो सकेगी. (प्रतीकात्मक)

Vaccination in India: केंद्र सरकार (Central Government) ने शुरुआत से ही चरणबद्ध तरीके से टीकाकरण करने का ऐलान किया था, जिसके तहत सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर और फिर 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई गई थी.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत (India) में आज यानी 1 मई, दिन शनिवार से कोरोना वायरस (Coronavirus) टीकाकरण का नया चरण शुरू हो चुका है. सरकार ने इस दौर में 18 साल से ज्यादा उम्र के नागरिकों को वैक्सीन लगाने का फैसला किया है. हालांकि, बीते कुछ हफ्तों से लगातार वैक्सीन और अन्य चिकित्सकीय सुविधाओं की कमी की खबरें मीडिया की सुर्खियां बनी हुई हैं. जिसकी वजह से कई राज्यों में सरकारों ने इस दौर को फिलहाल टालने का फैसला किया है.

केंद्र सरकार ने शुरुआत से ही चरणबद्ध तरीके से टीकाकरण करने का ऐलान किया था. जिसके तहत सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर और फिर 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई गई थी. जानकार भी लगातार कोरोना वायरस की रोकथाम में टेस्टिंग और टीकाकरण को सबसे जरूरी उपाय मान रहे हैं. अब जब कुछ राज्यों में टीकाकरण टल गया है, तो नए आदेशों के चलते नागरिकों के मन में भी संशय पैदा हो गया है. यहां जानिए कि आपके राज्य में वैक्सीन प्रोग्राम का क्या हाल है.
उत्तर प्रदेश: राज्य के 10 अस्पतालों में करीब 3 हजार लोगों को टीका लगाए जाने की तैयारी है. नए चरण को लेकर अधिकारी ने जानकारी दी है कि इस दौरान केवल कोविन या आरोग्य सेतु पर रजिस्ट्रेशन कराने वालों को ही टीका लगाया जाएगा. हालांकि, उन्होंने यह भी कहा है कि अपाइंटमेंट पाने में असफल रहे लोगों के लिए शु्क्रवार शाम से फिर स्लॉट बुकिंग शुरू की गई है.
राजस्थान: रिपोर्ट्स के अनुसार, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से 3 लाख डोज मिलने के चलते राज्य में वैक्सीन का नया चरण शुरू हो रहा है. राज्य के 11 जिला मुख्यालयों पर आज लोगों को टीका लगाया जाएगा. मीडिया रिपोर्ट्स में स्वास्थ्य अधिकारियों के हवाले से बताया जा रहा है कि फिलहाल टीकाकरण सर्वाधिक प्रभावित 11 मुख्यालयों में हो रहा है. इनमें अलवर, उदयपुर, बीकनेर, जोधपुर, अजमेर, जयपुर, सीकर, कोटा और पाली का नाम शामिल है. वैक्सीन की संख्या बढ़ने के साथ ही अन्य क्षेत्रों में भी टीकाकरण शुरू किया जाएगा.
गुजरात: स्थापना दिवस मना रहे राज्य के 10 जिलों- कच्छ, मेहसाणा, राजकोट, सूरत, वडोदरा, अहमदाबाद, भावनगर, भरूच और गांधीनगर में आज से टीकाकरण का नया चरण शुरू हो रहा है.
महाराष्ट्र: वैक्सीन की कमी की खबरों को लेकर महाराष्ट्र सबसे ज्यादा सुर्खियों में रहा है. हालांकि, आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई में कुछ जगहों पर टीकाकरण शुरू हो रहा है. बीएमसी ने बताया है कि बीकेसी जंबो फेसिलिटी, कूपस अस्पताल, सेवल हिल्स हॉस्पिटल, राजावाड़ी अस्पताल और नायर अस्पताल में आज वैक्सिनेशन होगा.
दिल्ली: मैक्स, अपोलो और फोर्टिस हॉस्पिटल में आज नागरिकों को टीके लगाए जाएंगे. जबकि, सरकारी अस्पताल में फिलहाल टीकाकरण नहीं किया जाएगा. राजधानी दिल्ली में ऑक्सीजन और अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं की किल्लत की खबरें लंबे समय से आ रही हैं. इसके चलते दिल्ली के एक अस्पताल ने अदालत का रुख भी किया था.
यहां होगा विलंब: देश के कुछ राज्यों में आज से नए चरण की टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू नहीं हो सकेगी. इनमें पश्चिम बंगाल, उत्तराखंड, ओडिशा, झारखंड, तमिलनाडु, जम्मू-कश्मीर, कर्नाटक, अरुणाचल प्रदेश का नाम शामिल है. इनमें से ज्यादातर राज्यों में वैक्सीन की कमी चलते टीकाकरण को टालने का फैसला लिया गया. जबकि, अरुणाचल प्रदेश सरकार ने तकनीकी खराबी का हवाला दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज