अपना शहर चुनें

States

शख्स के पास थे बिटक्वॉइन में 1800 करोड़ रुपए, लेकिन पासवर्ड भूला और सब गंवा दिया

द टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक बिटक्वॉइन का 20 फीसदी असल मुद्रा में 9.5 लाख करोड़ की कीमत का है, जोकि ऐसे क्रिप्टो बॉक्स में बंद है, जिसका पासवर्ड उसके मालिक भूल गए हैं. फाइल फोटो
द टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक बिटक्वॉइन का 20 फीसदी असल मुद्रा में 9.5 लाख करोड़ की कीमत का है, जोकि ऐसे क्रिप्टो बॉक्स में बंद है, जिसका पासवर्ड उसके मालिक भूल गए हैं. फाइल फोटो

Investing in Bitcoin: अगर निवेशक 10 बार में सही पासवर्ड नहीं डाल पाता है तो Iron-Keys ड्राइव हमेशा के लिए लॉक हो जाएगी और फिर निवेशक को कोई दूसरा मौका नहीं मिलेगा. स्टीफन थॉमस के साथ भी ऐसा ही हुआ, वे अपना पासवर्ड भूल गए और मामला तब बिगड़ा जब उन्होंने 8 बार गलत पासवर्ड डाला.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 13, 2021, 10:09 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बिटक्वॉइन (Bitcoin) हमेशा से एक पहेली है, कुछ लोग बिना रेगुलेशन के दायरे में आने वाली इस विक्रेंदित डिजिटल करेंसी (Digital Currency) का जोरदार समर्थन करते हैं, तो बहुत सारे लोग इसकी अस्थिरता और असुरक्षित होने को लेकर आलोचना भी करते हैं. आज के दौर में बिटक्वॉइन में निवेश करना बहुत मेहनत और घंटों की रणनीति से ही संभव है तो क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) के शुरुआती निवेशकों को अब किसी तरह का डर नहीं है. लेकिन, आज भी कुछ ऐसे लोग हैं, जो करोड़ों की दौलत अपनी एक छोटी सी गलती की वजह से गंवा बैठते हैं, जैसे- पासवर्ड भूल जाना... स्टीफन थॉमस (Stefan Thomas) ऐसे ही निवेशक हैं, जो पासवर्ड भूल जाने की वजह से करोड़ों से हाथ धो बैठे.

थॉमस ने बहुत पहले ही बिटक्वॉइन में निवेश करना शुरू कर दिया था. उस समय बिटक्वॉइन की कीमत कुछ रुपयों में थी, लेकिन थॉमस के पास आज की तारीख में 7,002 बिटक्वॉइन हैं. लंबे वक्त में निवेश को सुरक्षित रखने के लिए थॉमस ने अपने सभी बिटक्वॉइन को इनक्रिप्टेड हार्ड ड्राइव Iron-Keys
स्टोर कर दिया. इस Iron-Keys वॉलेट में एक कंडीशन थी कि किसी भी ड्राइव में स्टोर बिटक्वॉइन को खोलने के लिए सही पासवर्ड डालने के सिर्फ 10 मौके मिलेंगे, अगर निवेशक 10 बार में सही पासवर्ड नहीं डाल पाता है तो Iron-Keys ड्राइव हमेशा के लिए लॉक हो जाएगी और फिर निवेशक को कोई दूसरा मौका नहीं मिलेगा. स्टीफन थॉमस के साथ भी ऐसा ही हुआ, वे अपना पासवर्ड भूल गए और मामला तब बिगड़ा जब उन्होंने 8 बार गलत पासवर्ड डाला. आज की तारीख में थॉमस के बिटक्वॉइन की कीमत 245 मिलियन डॉलर यानी 1,800 करोड़ रुपये की है.


थॉमस की कहानी को पहली बार न्यूयॉर्क टाइम्स ने छापा, जिससे पता चला कि बिटक्वॉइन की सबसे बड़ी खामियां क्या हैं. बता दें कि बिटक्वॉइन क्रिप्टोकरेंसी के नियमों पर संचालित होती है. इस तकनीक में क्रिप्टोग्राफिक कुंजियों की महत्वूर्ण भूमिका होती है. इन कुंजियों से ही सर्वर क्रिप्टोकरेंसी की पहचान करता है और ये बिल्कुल अलग होती हैं, जो सिर्फ निवेशक को पता होती हैं. विश्व में कोई भी संस्थान या केंद्रीयकृत संस्था नहीं है, जिसके पास इसे संचालित करने की शक्ति हो या मास्टर कुंजी हो, जिसके जरिए सभी डाटा तक पहुंचा जा सके या फिर ऐसे संस्थान के साथ Iron-Keys का पासवर्ड शेयर किया गया हो. यदि, निवेशक क्रिप्टो वॉलेट का पासवर्ड भूल जाते हैं तो कोई भी कंपनी या हेल्पलाइन उनकी मदद नहीं कर सकती, जो आपको पासवर्ड बता सके, जैसाकि आमतौर पर बैंक और अन्य वित्तीय संस्थान करते हैं.



थॉमस के मामले से पता चलता है कि शेयर और अन्य ट्रेडिंग उत्पादों के मुकाबले बिटक्वॉइन कितनी अस्थिर चीज है. बिटक्वॉइन किसी पदार्थ या आकार से नहीं जुड़ी होती है और इसका परिणाम ये है कि बिटक्वॉइन की कीमतों में बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है. खतरा ये भी है कि डार्क वेब संस्थाएं बिटक्वॉइन को खासा प्रभावित कर सकती हैं और इसकी निगरानी के लिए कोई भी नियम कानून नहीं है. थॉमस अब सिर्फ अब भाग्य को कोस सकते हैं और उनके शब्दों में कहे तो उन्हें रातों को नींद नहीं आती और वे अपने पासवर्ड के बारे में ही सोचते रहते हैं. इस बात की भी कोई गारंटी नहीं है कि थॉमस ये बिटक्वॉइन्स हमेशा के लिए अपने पास रख पाएंगे. अन्यथा कि वे जल्द ही इसे कैश में भुना लें.

द टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक बिटक्वॉइन का 20 फीसदी असल मुद्रा में 9.5 लाख करोड़ की कीमत का है, जोकि ऐसे क्रिप्टो बॉक्स में बंद है, जिसका पासवर्ड उसके मालिक भूल गए हैं और आशंका है कि ये कभी रिकवर भी ना हो. इस तरह पासवर्ड में बंद बिटक्वॉइन की कीमत दुनिया के कई सारे देशों की जीडीपी से भी ज्यादा है. थॉमस का केस बिटक्वॉइन के लॉक मनी का सिर्फ 0.2 फीसद है.

बात वही है कि इतनी बड़ी राशि का एक छोटा हिस्सा भी स्टीफन थॉमस को आलीशान जिंदगी दे सकता है, अगर वे किसी भी तरह अपना पासवर्ड रिकवर कर लें. याद कर लें और क्रिप्टो वॉलेट खुल जाए... लेकिन खुल जा सिम-सिम कहने जितना आसान नहीं है!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज