पश्चिम बंगाल: STF ने किया बोधगया ब्लास्ट के आरोपी अब्दुल रहीम को गिरफ्तार

अब्दुल रहीम पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद का रहने वाला है. वह जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) और जेएमबी धूलियन मॉड्यूल का एक सक्रिय सदस्य है.

News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 4:31 PM IST
पश्चिम बंगाल: STF ने किया बोधगया ब्लास्ट के आरोपी अब्दुल रहीम को गिरफ्तार
अब्दुल रहीम पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद का रहने वाला है. वह जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) और जेएमबी धूलियन मॉड्यूल का एक सक्रिय सदस्य है.
News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 4:31 PM IST
पश्चिम बंगाल में कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) को बड़ी कामयाबी मिली है. एसटीएफ ने आतंकी संगठन जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के सदस्‍य अब्दुल रहीम को मंगलवार गिरफ्तार कर लिया है. रहीम 2018 में हुए बोध गया ब्लास्ट मामले में शामिल था.

अब्दुल रहीम पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद का रहने वाला है. वह जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) और जेएमबी धूलियन मॉड्यूल का एक सक्रिय सदस्य है. यह मॉड्यूल 2018 में बिहार के बोधगया में हुए धमाके के लिए जिम्मेदार है. STF ने बताया कि आंतकी के पास से कई संदिग्ध सामान और असलहा बरामद हुआ है. फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है.



धमाके के दौरान तिब्बती धर्म गुरु थे मौजूद
Loading...

बता दें कि बिहार के गया जिले में बौद्ध धार्मिक स्थल महाबोधि मंदिर में 19 जनवरी 2018 को दो बम धमाके हुए थे. यह घटना उस समय हुई जब तिब्बती धर्म गुरु दलाई लामा बोधगया के दौरे पर आए हुए थे. वह धमाके दौरान मंदिर परिसर में मौजूद थे.

जांच के दौरान एक बम मंदिर के पास मिला.
जांच के दौरान एक बम मंदिर के पास मिला.


मंदिर में मिले थे 3 जिंदा बम

इसके अलावा महाबोधि मंदिर परिसर में तीन जिंदा बम भी मिले थे. धमाके के बाद एनएसजी और राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) बिहार पुलिस के साथ इस मामले में जांच करने पहुंची थी. जांच के दौरान एक बम मंदिर के पास, जबकि दो श्रीलंका के बौद्ध मठ के पास मिले थे. हालांकि एनएसजी की टीम ने बमों को निष्क्रिय कर दिया था.

2013 में भी हुए थे धमाके

इससे पहले 7 जुलाई 2013 को बोधगया में सीरियल बम धमाके हुए थे. इस घटना में एक तिब्बती बौद्ध भिक्षु और म्यांमार के तीर्थयात्री घायल हो गए थे. ये धमाके भगवान बुद्ध की ज्ञानस्थली बोधगया के पास हुए थे. इस केस में एनआईए की विशेष अदालत सभी दोषियों को उम्रकैद की सजा सुना चुकी है.

ये भी पढ़ें-

3 बड़े बैंकों ने दिया ग्राहकों को तोहफा,हर महीने बचेंगे पैसे

प्लेन के लैंडिंग गियर में छुपकर जा रहा था शख्स, 3500 फीट की ऊंचाई से गिरा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 2, 2019, 4:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...