अमरनाथ यात्रियों के लिए ढाल बने ITBP के जवान, VIDEO हुआ वायरल

सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में देखा जा सकता है कि आईटीबीपी के जवान किस तरह श्रद्धालुओं की ढाल बनकर खड़े हैं और श्रद्धालु उनके पीछे से आराम से अपनी यात्रा की ओर आगे बढ़ रहे हैं.

News18Hindi
Updated: July 6, 2019, 10:29 AM IST
अमरनाथ यात्रियों के लिए ढाल बने ITBP के जवान, VIDEO हुआ वायरल
सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में देखा जा सकता है कि आईटीबीपी के जवान किस तरह श्रद्धालुओं की ढाल बनकर खड़े हैं और श्रद्धालु उनके पीछे से आराम से अपनी यात्रा की ओर आगे बढ़ रहे हैं.
News18Hindi
Updated: July 6, 2019, 10:29 AM IST
बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं को एक बार फिर प्राकृतिक आपदा का सामना करना पड़ रहा है. यात्रा के दौरान बारिश होने से पहाड़ों से गिरने वाले पत्थर को रोकने के लिए एक बार फिर भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जवानों ने मोर्चा संभाला है. सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में देखा जा सकता है कि आईटीबीपी के जवान किस तरह श्रद्धालुओं की ढाल बनकर खड़े हैं और श्रद्धालु उनके पीछे से आराम से अपनी यात्रा की ओर आगे बढ़ रहे हैं.

बताया जाता है कि बालटाल में अमरनाथ यात्रा के रास्ते में शुक्रवार को पहाड़ों से पत्थर के टुकड़े गिरने लगे. इससे तीर्थयात्रियों को आगे बढ़ने में दिक्कत होने लगी. इसी दौरान वहां मौजूद आईटीबीपी के जवानों ने तुरंत मोर्चा संभाला और चट्टान की तरह पत्थरों को रोकने के लिए खड़े हो गए. जवान अपनी जान की परवाह किए बगैर तब तक ढाल बनकर खड़े रहे जब तक पहाड़ से पत्थर गिरना बंद नहीं हो गए. इस दौरान यात्रा को रोका नहीं गया. वीडियो में देखा जा सकता है कि किस तरह यात्री जवानों के पीछे से निकलकर अपनी यात्रा में आगे की ओर बढ़ रहे हैं.



अमरनाथ यात्रा अनंतनाग जिले के 36 किलोमीटर लंबे पारंपरिक पहलगाम मार्ग और गांदेरबल जिले के 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग से होती है. साधुओं समेत सैकड़ों श्रद्धालु जम्मू पहुंचना शुरू हो गए हैं और तीर्थयात्रा को लेकर काफी उत्साहित हैं. जम्मू के मंडल आयुक्त संजीव वर्मा ने बताया कि तीर्थयात्रियों की सुविधा और यात्रा के दौरान उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सभी जरूरी प्रबंध कर लिए गए हैं. यात्रा 15 अगस्त को खत्म होगी.
Loading...

Amarnath Yatra, indian army, Jammu, jammu and kashmir, jammu kashmir, terrorism, Terrorist

एक दिन में 15 हज़ार लोग करेंगे दर्शन
जम्मू से अमरनाथ यात्रियों का दूसरा जत्था भी बालटाल और पहलगांव के लिए रवाना हो गया है. आतंकी हमले की धमकी को देखते हुए पुलिस के साथ-साथ अद्धसैनिकल बलों और सेना को भी सुरक्षा के लिए तैनात किया गया है. बताया जाता है कि दोनों ही रास्तों से एक दिन में अधिकतम 15 हज़ार लोग बाबा बर्फानी के दर्शन कर सकेंगे.

Amarnath Yatra, indian army, Jammu, jammu and kashmir, jammu kashmir, terrorism, Terrorist

40 हजार सुरक्षाकर्मी कर रहे हैं सुरक्षा
यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 15 अगस्त तक चलने वाली अमरनाथ यात्रा में लगभग 40 हजार सुरक्षाकर्मियों को लगाया गया है. बताया जाता है कि अभी तो मौसम काफी साफ है लेकिन कुछ ही दिनों में मौसम खराब हो सकता है.

सीसीटीवी और ड्रोन से रखी जा रही नजर
यात्रियों की सुरक्षा के लिए इस बार आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया गया है. जगह-जगह पर सीसीटीवी कैमरा लगाए गए हैं. केन्द्र सरकार के निर्देश पर आधुनिक बुलेटप्रूव गाड़िया घाटी भेजी गई हैं. घने जंगल के क्षेत्र की निगरानी के लिए ड्रोन का भी उपयोग किया जा रहा है, जहां आतंकवादी छिप जाते हैं.
First published: July 6, 2019, 8:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...