J&K: पाकिस्तान ने नौशेरा में तोड़ा सीजफायर, गोलीबारी में सूबेदार सुखदेव सिंह शहीद

पाकिस्तान की ओर से हुई भारी गोलीबारी के बाद नियंत्रण रेखा (LoC)पर तनाव है. (PTI)
पाकिस्तान की ओर से हुई भारी गोलीबारी के बाद नियंत्रण रेखा (LoC)पर तनाव है. (PTI)

पाकिस्तान (Pakistan) की ओर से नौशेरा सेक्टर (Nowshera Jammu-Kashmir) में गोलीबारी की गई. भारतीय सेना (Indian Army) ने भी जवाबी कार्रवाई की. नौशेरा सेक्टर के बाबाखोरी इलाके में पाकिस्तानी गोलीबारी में सेना के एक जेसीओ शहीद हो गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 9:14 AM IST
  • Share this:
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के राजौरी जिले में पाकिस्तान (Pakistan) की तरफ से एक बार फिर से सीजफायर का उल्लंघन हुआ है. सोमवार देर रात पाकिस्तान ने नौशेरा सेक्टर में फायरिंग की. इस दौरान भारतीय सेना (Indian Army) के सूबेदार सुखदेव सिंह शहीद हो गए. पाकिस्तान की ओर से हुई भारी गोलीबारी के बाद नियंत्रण रेखा (LoC)पर तनाव है. शहीद सूबेदार सुखदेव सिंह ऊधमपुर के मजालता के निवासी थे.

जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान की ओर से नौशेरा सेक्टर में गोलीबारी की गई. भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई की. नौशेरा सेक्टर के बाबाखोरी इलाके में पाकिस्तानी गोलीबारी में सेना के एक जेसीओ शहीद हो गया. सीजफायर उल्लंघन की यह वारदात उस दिन हुई है, जिस दिन आतंकियों ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के दस्ते पर हमला किया. पुलवामा जिले के पंपोर के कंडाल इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ के गश्ती दल पर घात लगाकर हमला कर दिया. इस घटना में भी सीआरपीएफ के 2 जवाब शहीद हो गए थे, जबकि 3 जवान घायल हुए हैं.

Indian Army
शहीद सूबेदार सुखदेव सिंह ऊधमपुर के मजालता के निवासी थे.




रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तानी सेना ने शाम करीब साढ़े छह बजे के आसपास गोलीबारी की और मोर्टार दागे. उन्होंने बताया कि पाकिस्तान ने बिना किसी उकसावे के सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन किया, जिसका भारतीय सेना ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया.
इससे पहले भी पाकिस्तानी सेना की ओर से गोलीबारी में 1 अक्टूबर को हवलदार कुलदीप सिंह और राइफलमैन शुभम शर्मा और 30 नवंबर की गोलीबारी में लांस नायक करनैल सिंह शहीद हो गए थे. बता दें कि पाकिस्तान पिछले कई दिनों से लगातार सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है.

India-China Rift: चीन ने सीमा पर लगाए कंटेनर और स्नो टेंट, सैनिकों को पीछे हटाने के लिए बढ़ाई शर्त- रिपोर्ट

पिछले हफ्ते पाकिस्तान ने 30 नवंबर और 1 अक्टूबर को भी जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले की कृष्णा घाटी और नौगाम सेक्टर में गोलीबारी की थी. लगातार दो दिन की इस गोलीबारी में भारतीय सेना के 3 जवान शहीद और 4 घायल हो गए थे. (PTI इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज