सुबोध जायसवाल बने सीबीआई के नए निदेशक, दो साल का होगा कार्यकाल

सुबोध जायसवाल बने सीबीआई के निदेशक (फाइल फोटो)

सुबोध जायसवाल बने सीबीआई के निदेशक (फाइल फोटो)

CBI New Director: सीबीआई के नए निदेशक नियुक्त किए गए जायसवाल 1985 बैच के भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी हैं और वह पूर्व में महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक पद पर रहे हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. आईपीएस सुबोध कुमार जायसवाल को अगले दो साल के लिए सीबीआई का नया निदेशक (New CBI Director) नियुक्त किया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अध्यक्षता में सोमवार को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के नये निदेशक के चयन के लिए गठित उच्चस्तरीय समिति ने केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के महानिदेशक सुबोध कुमार जायसवाल, सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के महानिदेशक कुमार राजेश चंद्रा और केंद्रीय गृह मंत्रालय में विशेष सचिव वी. एस. के. कौमुदी के नाम की सूची तैयार की थी. इस फैसले के बाद मंगलवार को जायसवाल को इस पर की जिम्मेदारी दी गई है.

जायसवाल 1985 बैच के भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी हैं और वह पूर्व में महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक पद पर रहे हैं. वर्तमान में वह केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के महानिदेशक हैं. जायसवाल 1985 बैच के महाराष्ट्र कैडर के अधिकारी हैं. वह मुंबई पुलिस कमिश्नर और महाराष्ट्र डीजीपी के पद पर रह चुके हैं. राज्य की उद्धव सरकार से मतभेद के बाद जायसवाल सेंट्रल डेपुटेशन पर दिल्ली चले गए थे. जायसवाल मुंबई सीपी के पहले ये सेंट्रल डेपुटेशन पर थे.

ये भी पढ़ें- बाबा रामदेव पर बरसे तेजप्रताप, कहा- असल मुद्दे से भटका कर देश को कर रहे गुमराह

जायसवाल RAW मे रह चुके हैं. इसके अलावा वह तेलगी स्कैम केस से जुड़े जांच से जुड़े थे. जायसवाल 2006 मुंबई सीरियल ब्लॉस्ट के जांच से भी जुड़े थे.
22 सितंबर 1962 को जन्मे सुबोध जायसवाल 23 साल की उम्र में ही आईपीएस अधिकारी बन गए थे. इनकी काबलियत को देखते हुए देश की खुफिया एजेंसी में कई महत्वपूर्ण ऑपरेशन के लिए चयन किया गया, जहां उन्होंने बहुत ही बेहतर तरीके से अपनी भूमिका निभाई. जायसवाल देश की सबसे बड़ी खुफिया एजेंसी रॉ (RA& W) में देश के बाहर कई सफल ऑपरेशंस को अंजाम दे चुके हैं. दिल्ली में सेंट्रल डेपुटेशन में आने से पहले यानी CISF के DG बनने से पहले सुबोध जायसवाल मुम्बई के एडिशनल पुलिस कमिश्नर पद पर कार्यरत थे.

PM मोदी के अलावा दो और लोग रहे बैठक में शामिल

सीबीआई के नए निदेशक की नियुक्ति को लेकर हुई बैठक में प्रधानमंत्री के अलावा समिति के दो अन्य सदस्य लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी और भारत के प्रधान न्यायाधीश एन वी रमन्ना भी बैठक में उपस्थित थे. यह बैठक प्रधानमंत्री आवास पर हुई.



लगभग 90 मिनट तक चली बैठक में चौधरी ने अधिकारियों की नियुक्ति की प्रक्रिया को लेकर सवाल उठाए.


वर्तमान में 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी और सीबीआई के अतिरिक्त निदेशक प्रवीण सिन्हा सीबीआई निदेशक का प्रभार संभाल रहे हैं. सिन्हा को यह प्रभार ऋषि कुमार शुक्ला के सेवानिवृत्त होने के बाद सौंपा गया था. वह दो साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद फरवरी में सेवानिवृत्त हुए थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज