Home /News /nation /

श्रीनगर में डल झील के किनारे सूफी संगीत उत्सव का हुआ आगाज़

श्रीनगर में डल झील के किनारे सूफी संगीत उत्सव का हुआ आगाज़

इस कार्यक्रम में दिल्ली घराना के वुस्सत इकबाल सहित सूफी संगीत से जुड़ी कई जानमानी हस्तियां भी शिरकत करेंगी

इस कार्यक्रम में दिल्ली घराना के वुस्सत इकबाल सहित सूफी संगीत से जुड़ी कई जानमानी हस्तियां भी शिरकत करेंगी

श्रीनगर में डल झील के किनारे स्थित शेर-ए-कश्मीर इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर (SKICC) में आयोजित दो दिनों के इस कार्यक्रम का नाम 'जम्मू-कश्मीर की रूह' (Sprit of J&K) रखा गया है.

    श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में दो दिनों के सूफी संगीत उत्सव (Sufi Music Festival) का शनिवार को आगाज़ हो गया. श्रीनगर में डल झील के किनारे स्थित शेर-ए-कश्मीर इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर (SKICC) में आयोजित दो दिनों के इस कार्यक्रम का नाम ‘जम्मू-कश्मीर की रूह’ (Sprit of J&K) रखा गया है. इस कार्यक्रम में दिल्ली घराना के वुस्सत इकबाल सहित सूफी संगीत से जुड़ी कई जानमानी हस्तियां भी शिरकत करेंगी और घाटी की शास्त्रीय संगीत को संरक्षित करने के उपायों पर चर्चा की जाएगी. इस फेस्टिवल में सूफीवाद की प्रासंगिकता तथा शांति और मानवता के संदेश पर चर्चा की जाएगी.

    तीन दिनों के जम्मू-कश्मीर दौरे पर गए गृह मंत्री अमित शाह भी अपनी यात्रा के दौरान एसकेआईसीसी जाने वाले हैं. यहां वह सिविल सोसायटी के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेंगे. इस दौरान डल झील के किनारे एक सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा, जिसमें प्रसिद्ध सूफी गायक शफी कूपर प्रस्तुति देंगे. इस कार्यक्रम को लेकर वह कहते हैं, ‘मुझे यहां सूफी गायकी का मुजायहरा करने पर खुशी होगी. हमारा सूफी संगीत शांति का संदेश फैलाता है.’

    बता दें कि गृहमंत्री अमित शाह जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार श्रीनगर दौरे पर पहुंचे हैं. श्रीनगर हवाई अड्डे पर उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने उनका स्वागत किया. अमित शाह एयरपोर्ट पर उतरने के बाद सबसे पहले नौगाम में शहीद इंस्पेक्टर के घर पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे. गृहमंत्री ने इंस्पेक्टर परवेज़ अहमद के घर जाकर परिज़नों से मुलाक़ात की, जिनकी आतंकियों द्वारा हत्या कर दी गई थी.

    अमित शाह ने ट्वीट किया, ‘आज मैं शहीद परवेज अहमद डार के परिजन से मिला और उन्हें सांत्वना दी. मुझे और राष्ट्र को उनकी बहादुरी पर गर्व है. प्रधानमंत्री मोदी के नए जम्मू कश्मीर के सपने को सच करने के लिए हम सारे प्रयास कर रहे हैं.’

    अहमद 22 जून को नमाज पढ़कर लौट रहे थे, तभी नौगाम में उनके घर के पास आतंकवादियों ने उन्हें गोली मार दी थी. अधिकारियों ने कहा कि शाह ने शहीद पुलिसकर्मी के परिजन को सांत्वना दी और शहीद पुलिस अधिकारी की विधवा फातिमा अख्तर को अनुकंपा के आधार पर सरकारी नौकरी के दस्तावेज सौंपे.

    Tags: Amit shah, Jammu kashmir, Sufi Music

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर