Assembly Banner 2021

वैज्ञानिकों ने तालाशा नया ग्रह, पृथ्वी से है तीन गुना ज्यादा बड़ा

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर

वैज्ञानिकों के मुताबिक ये स्टार- star Gliese 486 के चक्कर काटता है. इसे स्टार के चक्कर पूरा करने में डेढ़ दिनों का वक्त लगता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. वैज्ञानिकों ने एक नए ग्रह (Planet) की तलाश की है. इसे 'सुपर अर्थ' कहा जा रहा है. ये पृथ्वी (Earth) से बेहद नजदीक है. जबकि पृथ्वी से आकार से ये करीब 3 गुना बड़ा है. वैज्ञानिक अब यहां ये पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या यहां पहले कोई 'जीवन' था नहीं. इस ग्रह को एक खास तरीके से खोजा गया है. इसके स्टडी के नतीजे साइंस जर्नल में प्रकाशित हुए हैं.

वैज्ञानिकों के मुताबिक ये स्टार- star Gliese 486 के चक्कर काटता है. इसे स्टार के चक्कर पूरा करने में डेढ़ दिनों का वक्त लगता है. इस ग्रह को जाइल्स 486b का नाम दिया गया है. मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट फॉर एस्ट्रोनॉमी में खगोल विज्ञानी ट्रिफोन ट्रिफोनोव की टीम ने इसे तलाशा है. ये ग्रह चट्टानी है. इसका द्रव्यमान पृथ्वी से लगभग 2.8 गुना है, और यह ग्रह पृथ्वी से लगभग 30 प्रतिशत बड़ा है.

ये भी पढ़ें:- 33 जिलों में बढ़े कोरोना केस, मॉल-धार्मिक स्थलों में बरतें ये सावधानियां



ये भी पढ़ें:- पीलीभीत: नेपाल पुलिस की गोली से एक भारतीय की मौत, बॉर्डर पर SSB अलर्ट
वैज्ञानिकों के मुताबिक इस ग्रह के सतह का तापमान 430 डिग्री सेल्यिस है. ये पृथ्वी से 24 लाइट ईयर्स दूर है. शुक्र के वातावरण की तुलना में कहीं कम दबाव है. Gliese 486b की खोज के लिए ट्राइफन ट्राइफनोव और उनके साथियों ने दोनों तरीकों का इस्तेमाल किया है जिससे ग्रह के द्रव्यमान, रेडियस और घनत्व के बारे में पता चल सका है
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज