अवैध बालू खनन पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, केंद्र सरकार, CBI और 5 राज्यों को भेजा नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार, केंद्रीय जांच ब्यूरो, तमिलनाडु, पंजाब, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश को नोटिस जारी किए हैं.

भाषा
Updated: July 24, 2019, 1:01 PM IST
अवैध बालू खनन पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, केंद्र सरकार, CBI और 5 राज्यों को भेजा नोटिस
सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र, CBI और 5 राज्यों को जारी किए नोटिस
भाषा
Updated: July 24, 2019, 1:01 PM IST
सुप्रीम कोर्ट ने अवैध बालू खनन में शामिल संस्थाओं के खिलाफ अभियोग की मांग करने वाली याचिका पर केन्द्र सरकार, सीबीआई और पांच राज्यों की सरकारों को बुधवार को नोटिस जारी किए हैं.

न्यायमूर्ति एस ए बोबडे की अगुवाई वाली बेंच ने केंद्र सरकार, केंद्रीय जांच ब्यूरो, तमिलनाडु, पंजाब, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश को नोटिस जारी किए हैं. सुप्रीम कोर्ट ने ये नोटिस उस याचिका की सुनवाई के दौरान जारी किए, जिसमें दावा किया गया है कि राज्यों में अनियंत्रित अवैध खनन पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहा है.

राज्यों में हो रहा रेत खनन

याचिकाकर्ता की ओर से पेश वकीलों प्रशांत भूषण और प्रणव सचदेव ने बहस के दौरान न्यायालय से कहा कि अपेक्षित पर्यावरणीय मंजूरी के बिना राज्यों में रेत खनन हो रहा है.

खनन घोटाले में हो जांच

याचिका में सुप्रीम कोर्ट से अनुरोध किया गया है कि वह सीबीआई को याचिका में उल्लेखित ‘बालू खनन घोटालों पर मामले दर्ज करने और उनकी जांच करने’ के आदेश दे.

 भी पढ़ें: राहुल ने जिसका जिक्र कर साधा पीएम मोदी पर निशाना, जानें क्या है वो शिमला समझौता
Loading...

आंध्र प्रदेश: क्या प्राइवेट नौकरियों में आरक्षण देने का फैसला सही है?
First published: July 24, 2019, 12:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...