Home /News /nation /

मुश्किल में फंसे ट्विटर इंडिया के पूर्व एमडी मनीष माहेश्वरी, यूपी सरकार की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया नोटिस

मुश्किल में फंसे ट्विटर इंडिया के पूर्व एमडी मनीष माहेश्वरी, यूपी सरकार की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया नोटिस

सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने गाजियाबाद पुलिस को किसी तरह के सख्त कदम ना उठाने के निर्देश दिए थे. (फाइल फोटो)

सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने गाजियाबाद पुलिस को किसी तरह के सख्त कदम ना उठाने के निर्देश दिए थे. (फाइल फोटो)

गाजियाबाद (Ghaziabad) के लोनी इलाके के एक बुजुर्ग का वीडियो पिछले दिनों ट्विटर (Twitter) पर वायरल (Viral Video) हुआ था. इस वीडियो में बुजुर्ग ने मुस्लिम होने के चलते खुद की पिटाई होने, दाढ़ी काटे जाने और जबरदस्ती जय श्री राम के नारे लगवाए जाने का आरोप लगाए थे.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. संवेदनशील वीडियो अपलोडिंग मामले में उत्तर प्रदेश सरकार की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने शुक्रवार को ट्विटर इंडिया (Twitter India) के पूर्व एमडी मनीष माहेश्वरी (Manish Maheshwari) को नोटिस जारी किया है. शीर्ष अदालत के नोटिस पर ट्विटर इंडिया के एमडी मनीष माहेश्वरी को चार हफ्ते में जवाब देना होगा. दरअसल, यूपी सरकार ने एक संवेदनशील वीडियो की जांच के लिए माहेश्वरी की उपस्थिति की मांग करने वाले नोटिस को रद्द करने के कर्नाटक हाईकोर्ट (Karnataka High Court) के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.

यह है पूरा मामला
संवेदनशील वीडियो अपलोडिंग को लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस ने ट्विटर इंडिया के पूर्व एमडी मनीष माहेश्वरी को व्यक्तिगत रूप से पेश होने के लिए कहा था जिसे मनीष ने कर्नाटक हाईकोर्ट में चुनौती दे दी थी. इसके बाद उन्हें हाईकोर्ट से राहत मिल गई थी. सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने गाजियाबाद पुलिस को किसी तरह के सख्त कदम ना उठाने के निर्देश दिए थे. कोर्ट के इस आदेश के बाद यूपी पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था.

वीडियो वायरल होने पर मनीष माहेश्वरी आए थे विवादों में
गाजियाबाद के लोनी इलाके के एक बुजुर्ग का वीडियो पिछले दिनों ट्विटर पर वायरल हुआ था. इस वीडियो में बुजुर्ग ने मुस्लिम होने के चलते खुद की पिटाई होने, दाढ़ी काटे जाने और जबरदस्ती जय श्री राम के नारे लगवाए जाने का आरोप लगाए थे. हालांकि उत्तर प्रदेश पुलिस ने जांच के बाद इसका खंडन किया था. पुलिस का कहना था कि यह मामला तंत्र साधना से जुड़ा हुआ था और उसी के चलते उसकी पिटाई युवकों ने की थी. इसी मामले में ट्विटर का नाम भी शामिल किया गया है.

यह भी पढ़ें- Mumbai Avighna Park Apartments Fire: 60 मंजिला अपार्टमेंट में लगी आग, बचने के लिए 19वीं मंजिल से कूदा शख्स, मौत

यह भी पढ़ें- Hajj 2022 पर केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने दी बड़ी जानकारी, कहा- अगले महीने होगा तारीखों का ऐलान

कौन हैं मनीष माहेश्वरी
मनीष माहेश्वरी ने दिल्ली के प्रतिष्ठित श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से पढ़ाई की है. यहां पढ़ने के दौरान उन्होंने छात्र संघ चुनाव में भी हिस्सा लिया था. वह यहां के छात्रों की पत्रिका के संपादक भी रहे. अतिरिक्त गतिविधियों में भाग लेने के लिए उन्हें कॉलेज के सर्वोच्च सम्मान प्रिंसिपल मदन मोहन मेडल से सम्मानित किया गया था. एसआरसीसी से स्नातक करने के बाद वह MBA करने के लिए अमेरिका में यूनिवर्सिटी ऑफ पेनिसिल्वेनिया के व्हार्टन स्कूल चले गए. यहां उन्हें उद्यमिता के लिए सर्वोच्च सम्मान शिल्स-जाइडमैन अवार्ड से सम्मानित किया गया.

माहेश्वरी ने अपना करियर प्रॉक्टर एंड गैंबल (पी एंड जी) के साथ शुरू किया था. यहां वह सबसे कम उम्र के क्षेत्रीय प्रवासी मैनेजरों में से एक थे. पी एंड जी के साथ काम करते हुए उन्होंने मुंबई, सिंगापुर और मनीला में काम किया था. इसके बाद वह अमेरिका की मैकिंजी कंपनी से जुड़े. साल 2011 में उन्होंने टेक्स्टवेब (TxtWeb) की स्थापना की. यह प्लेटफॉर्म ऐप डेवलपर्स को एसएमएस आधारित ऐप विकसित करने की अनुमति देता है. टेक्स्टवेब सिटीजन जर्नलिज्म के लिए सबसे बड़े मोबाइल प्लेटफॉर्म्स में से एक बन गया जहां लोग अपनी मातृभाषा में सूचना पा सकते हैं और साझा भी कर सकते हैं.

Tags: Twitter, Twitter India, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर