• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • सुप्रीम कोर्ट ने महिलाओं को NDA परीक्षा में बैठने की अनुमति दी, लेकिन आगे की प्रक्रिया पर जारी रहेगी बहस

सुप्रीम कोर्ट ने महिलाओं को NDA परीक्षा में बैठने की अनुमति दी, लेकिन आगे की प्रक्रिया पर जारी रहेगी बहस

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, NDA की प्रवेश परीक्षा में महिलाएं भी बैठ सकेंगी. (फाइल फोटो)

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, NDA की प्रवेश परीक्षा में महिलाएं भी बैठ सकेंगी. (फाइल फोटो)

बता दें कि 12वीं की परीक्षा पास कर चुके अविवाहित पुरुष उम्मीदवारों को ‘राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (NDA) एवं नौसेना अकादमी की परीक्षा (Exam) में बैठने की अनुमति दी जाती है लेकिन लिंग के आधार पर महिला उम्मीदवारों को परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं होती है.

  • Share this:

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने आज एक बड़ा फैसला सुनाते हुए राष्‍ट्रीय रक्षा अकादमी (NDA) की प्रवेश परीक्षा (Entrance Examinations) में छात्राओं को बैठने की मंजूरी दे दी. हालांकि एनडीए में भर्ती को लेकर सुप्रीम कोर्ट की तरफ से अभी कोई आदेश जारी नहीं किया गया है. बता दें कि 12वीं की परीक्षा पास कर चुके अविवाहित पुरुष उम्मीदवारों को ‘राष्ट्रीय रक्षा अकादमी एवं नौसेना अकादमी की परीक्षा में बैठने की अनुमति दी जाती है लेकिन लिंग के आधार पर महिला उम्मीदवारों को परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं होती है.

मामले को ऐसे समझिए कि सुप्रीम कोर्ट ने महिलाओं को राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) में प्रवेश के लिए परीक्षा में बैठने का निर्देश दिया है. परीक्षा 5 सितंबर के लिए निर्धारित है. परीक्षा पास करने के बाद राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में प्रवेश आदि प्रक्रिया अदालत के अंतिम आदेशों के अधीन होंगे. सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने महिलाओं के लिए अवसरों का विरोध करने के लिए सेना पर नाराजगी जाहिर की और कहा कि उसे अपना रवैया बदलने का निर्देश दिया और कहा कि सिर्फ न्यायिक आदेश पारित होने पर ही कदम नहीं उठाएं.

दरअसल सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दाखिल कर मांग की गई थी कि राष्ट्रीय रक्षा अकादमी और एवं नौसेना अकादमी में महिलाओं को भी प्रवेश दिया जाए. फिलहाल यहां सिर्फ पुरुषों को दाखिला मिलता है. खुश कालरा नाम के याचिकाकर्ता का कहना है कि ये महिलाओं के साथ भेदभाव है. संविधान में पुरुष और महिला को बराबर का हक दिया गया है, इसलिए इन दोनों प्रतिष्ठित संस्थाओं में महिलाओं का भी प्रवेश होना चाहिए.

इसे भी पढ़ें :- ममता सरकार ने पेगासस केस की जांच के लिए गठित किया था आयोग, SC ने भेजा नोटिस

केंद्र सरकार ने इस याचिका का विरोध करते हुए कहा था कि सेना में भर्ती होने के लिए सिर्फ एनडीए और NNE ही नहीं है. सेना में भर्ती होने के लिए यूपीएससी और नॉन यूपीएससी के जरिए महिलाओं का प्रवेश होता है. केंद्र सरकार के मुताबिक एनडीए के कैडेट को प्रमोशन में कोई खास फायदा नहीं दिया जाता है. दोनों तर्कों को सुनने के बाद अदालत ने फिलहाल महिलाओं को एग्जाम देने की इजाजत दे दी है, लेकिन इस परीक्षा में पास होने वाली छात्राओं को एनडीए में लिया जाएगा या नहीं इस पर आगे भी बहस होती रहेगी. एनडीए में महिलाओं की एंट्री कोर्ट के अंतिम आदेश पर निर्भर करेगी. कोर्ट का आज का आदेश महिलाओं के लिए उम्मीद की एक किरण है.

इसे भी पढ़ें :- सुप्रीम कोर्ट ने शख्स से कहा- तुम पत्नी को तलाक दे सकते हो, लेकिन बच्चों को नहीं

अब कब है NDA एग्जाम
संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने UPSC NDA/NA II परीक्षा 2021 स्थगित कर दी है, जो 5 सितंबर 2021 को आयोजित होने वाली थी. ये फैसला जून के आखिर में आया था. आधिकारिक नोटिस के मुताबिक, UPSC NDA/NA II परीक्षा 2021, संयुक्त रक्षा सेवा परीक्षा (II) 2021 के साथ आयोजित की जाएगी, जो 14 नवंबर 2021 को होने वाली है. देशभर के 75 केंद्रों पर यह परीक्षा आयोजित होने वाली है. इस भर्ती प्रक्र‍िया के जरिये राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में 370 और नौसेना अकादमी में 30 पदों को भरा जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज