रोड रेज केसः सिद्धू के खिलाफ दोबारा सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट तैयार

साल 1988 में पटियला में शेरनाला गेट चौराहे के पास हुए रोडरेज के मामले में पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ दाखिल केस पर सुप्रीम कोर्ट ने दोबारा सुनवाई के लिए इजाजत दे दी है.

News18Hindi
Updated: September 12, 2018, 7:33 PM IST
रोड रेज केसः सिद्धू के खिलाफ दोबारा सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट तैयार
नवजोत सिंह सिद्धू की फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: September 12, 2018, 7:33 PM IST
साल 1988 में पटियला में शेरनाला गेट चौराहे के पास हुए रोडरेज के मामले में पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ दाखिल केस पर सुप्रीम कोर्ट दोबारा सुनवाई के लिए तैयार हो गया है. सुप्रीम कोर्ट ने अपने एक फैसले में पहले सिद्धू पर 10,000 का फाइन लगाकर बरी कर दिया था. सिद्धु पर जो आरोप लगे हैं उनके मुताबिक उन्हें एक साल से ज्यादा की सजा हो सकती है.

सुप्रीम कोर्ट ने इस केस में पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट के फैसले को बदलते हुए सिद्धू को बरी कर दिया है.

इस मामले में पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने नवजोत सिंह सिद्धू को 3 साल की सजा सुनाई थी. सिद्धू ने हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. वहीं, पंजाब सरकार ने हाईकोर्ट का फैसला बरकरार रखने की दलील दी थी. जस्टिस जे चेलमेश्वर और एसके कौल की बेंच ने 18 अप्रैल को इस पर फैसला रिजर्व रख लिया था.

गौरलतब है कि सिद्धू और रुपिंदर सिंह संधू 27 दिसंबर, 1988 को पटियाला में शेरनवाला गेट चौरोह के पास अपनी गाड़ी में बैठे हुए थे. उसी समय गुरनाम सिंह अपने दो साथियों के साथ बैंक से पैसे निकालकर लौट रहे थे. बताया जाता है कि गुरनाम सिंह ने सिद्धू और संधू से गाड़ी हटाने को कहा. इस पर दोनों पक्षों में कहासुनी हो गई इस पर सिद्धू ने सिंह को बुरी तरह पीटा और अस्पताल में उनकी मौत हो गई.


ये भी पढ़ें-

प्रत्यर्पण मामलाः लंदन कोर्ट में पेशी से पहले बोले माल्या- सबका हिसाब चुकता कर दूंगा
राफेल डील पर एयरफोर्स चीफ ने किया सरकार का समर्थन, कहा- भारत के सामने है गंभीर खतरा
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर