Home /News /nation /

राम मंदिर मामले पर आज सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट, 5 जजों की बेंच सुनेगी मामला

राम मंदिर मामले पर आज सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट, 5 जजों की बेंच सुनेगी मामला

न्यूज18 के मीर सुहैल द्वारा बनाई गई क्रिएटिव ईमेज

न्यूज18 के मीर सुहैल द्वारा बनाई गई क्रिएटिव ईमेज

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने सोमवार को अयोध्या में विवादित राम मंदिर स्थल पर पूजा करने के अपने मौलिक अधिकार को लागू करने की मांग करने वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट में डाली है.

    अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई होगी. सुप्रीम कोर्ट के 5 जजों की संवैधानिक पीठ इस मामले की सुनवाई करेगी. इस पीठ में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस बोबडे, जस्टिस चंद्रचूड़, जस्टिस अब्दुल नजीर और जस्टिस अशोक भूषण होंगे. ये पीठ साल 2010 के इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ दायर 14 याचिकाओं पर सुनवाई करेगी.

    इससे पहले इस मामले की सुनवाई 29 जनवरी को होने वाली थी लेकिन पांच जजों की संवैधानिक पीठ में शामिल जस्टिस बोबडे जनवरी से छुट्टी पर थे. इस कारण यह सुनवाई नहीं हो पाई थी.

    वहीं बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने सोमवार को अयोध्या में विवादित राम मंदिर स्थल पर पूजा करने के अपने मौलिक अधिकार को लागू करने की मांग करने वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट में डाली है. उन्होंने इसे तुरंत सूचीबद्ध करने का अनुरोध किया है.

    चीफ जस्टिस रंजन गोगोई और जस्टिस संजीव खन्ना की पीठ ने स्वामी से कहा कि वह मंगलवार को अयोध्या के मुख्य मामले की सुनवाई के दौरान अदालत में उपस्थित रहें. हालांकि स्वामी ने अपनी याचिका का जिक्र करते हुए उस पर अलग से सुनवाई करने का अनुरोध किया. उन्होंने उसे तत्काल सूचीबद्ध करने की मांग भी की. बहरहाल, न्यायमूर्ति गोगोई ने कहा, ‘आप कल उपस्थित रहें. हम देखेंगे.’

    ये भी पढ़ें: देवबंद में आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद अयोध्या में हाई अलर्ट घोषित

    बता दें कि जनवरी में चीफ जस्टिस ने मामले की सुनवाई के लिए नई बेंच का गठन किया था. इससे पहले 10 जनवरी को हुई सुनवाई के दौरान मुस्लिम पक्षकारों के वकील राजीव धवन की ओर से आपत्ति जताए जाने के बाद जस्टिस यू यू ललित ने खुद को इस केस से अलग कर लिया था.

    ये भी पढ़ें: पाकिस्तान के ये हिंदू मंदिर पूरी दुनिया में हैं मशहूर

    वहीं 12 फरवरी को इस मामले को लेकर उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट को इस पर 24 घंटे के अंदर फैसला दे देना चाहिए. सीएम योगी ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि श्रीराम जन्मभूमि आस्था से जुड़ा विषय है और न्यायालय को भी जन आस्था का सम्मान करते हुए 24 घंटे के भीतर इस पर अपना फैसला सुना देना चाहिए.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Ayodhya, Ayodhya Land Dispute, Ayodhya Mandir, Central government, Ram Mandir Dispute, Supreme Court

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर