• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • आंध्र प्रदेश में मृतक को दे दी गईं कोरोना वैक्‍सीन की दोनों खुराकें, जानें पूरा मामला

आंध्र प्रदेश में मृतक को दे दी गईं कोरोना वैक्‍सीन की दोनों खुराकें, जानें पूरा मामला

आंध्र प्रदेश के अनंतपुर में मृत व्‍यक्ति को कोरोना वैक्‍सीन की दोनों खुराकें देने का मामला सामने आया है.

आंध्र प्रदेश के अनंतपुर में मृत व्‍यक्ति को कोरोना वैक्‍सीन की दोनों खुराकें देने का मामला सामने आया है.

आंध्रप्रदेश (Andhra Pradesh) के अनंतपुर जिले में एक मृत व्‍यक्ति के बेटे को फोन पर मैसेज मिला कि उसके पिता को कोविड-19 वैक्‍सीन (Covid-19 Vaccines) के दोनों डोज सफलतापूर्वक लगा दिए गए हैं. इस मैसेज पर परिवार के सदस्‍यों ने नाराजगी जाहिर की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    अनंतपुर. आंध्रप्रदेश (Andhra Pradesh) के अनंतपुर जिले में अजीबो-गरीब घटना सामने आई है, जिससे कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम (Coronavirus Vaccination Program) पर सवाल खड़े कर दिए हैं. यहां के हिंदूपुर में रहने वाले एक शख्‍स की जुलाई में मौत हो गई थी. इस मृत व्‍यक्ति के बेटे को फोन पर मैसेज मिला कि उसके पिता को कोविड-19 वैक्‍सीन (Covid-19 Vaccines) के दोनों डोज सफलतापूर्वक लगा दिए गए हैं. इस मैसेज पर परिवार के सदस्‍यों ने नाराजगी जाहिर की है और टीकाकरण कार्यक्रम में लापरवाही करने का आरोप लगाया है.

    मृत व्‍यक्ति के बेटे ने आरोप लगाया कि “टीकाकरण कार्यक्रम में बड़े पैमाने पर लापरवाही और गड़बड़ी की जा रही है. प्रक्रिया में शामिल अधिकारी अपना कर्तव्य नहीं निभा पा रहे और उन्‍होंने कोविन प्‍लेटफार्म पर टीकाकरण के लिए मृत व्‍यक्तियों का भी रजिस्ट्रेशन कर दिया है. उन्‍होंने बताया कि कोविड-19 टीकाकरण के रजिस्ट्रेशन को लेकर जिला प्रशासन की कार्यशैली पहले से ही आलोचना का सामना कर रही है. प्रशासन गांव और वॉर्ड सचिवालयों से वैक्‍सीन लेकर काम चला रहा है. लाभार्थियों के टीकाकरण की यह जिम्‍मेदारी मेडिकल स्‍टाफ के साथ एएनएम को सौंपी गई है. टीकाकरण प्रक्रिया की निगरानी के लिए नगर आयुक्‍त जिम्‍मेदार हैं.”

    ये भी पढ़ें :   Coal Scam: ईडी ने ममता के कानून मंत्री को भेजा समन, अभिषेक बनर्जी को फिर बुलाया दिल्ली

    ये भी पढ़ें :  WB में चुनाव बाद हिंसा का मामला: CBI जांच आदेश के खिलाफ अपील पर 20 को सुनवाई

    उन्‍होंने कहा कि टीकाकरण प्रक्रिया में जिले में कई गड़बड़ सामने आ रही हैं. प्रशासन टीकाकरण के दैनिक लक्ष्‍यों को पाने के लिए, स्‍थानीय स्‍वास्‍थ्‍य कर्मचारी कथित तौर पर अधिक से अधिक लोगों को पंजीकृत कर रहे हैं. वे उचित दस्‍तावेज के बिना और कोविन प्‍लेटफार्म पर स्‍लॉट बुकिंग कर रहे हैं. रिपोर्ट्स में यह भी बताया गया कि कई ऐसे भी लोग हैं जिन्‍हें अभी तक वैक्‍सीन नहीं लगी है, लेकिन उन्‍हें मोबाइल पर मेसेज मिल गया है कि उन्‍हें सफलतापूर्वक टीका लगाया जा चुका है.

    इस बारे में जिला स्‍तर के अधिकारी ने बताया कि स्‍थानीय स्‍टाफ, केवल उन लोगों को संदेश भेज रहे हैं, जिन्‍हें टीका लगवाना बाकी है. हालांकि कर्मचारियों ने इसे तकनीकी गड़बड़ बताया है. आंकड़ों की माने तो 12 सितंबर तक, आंध्रप्रदेश में 15,110 सक्रिय कोविड-19 के मामले थे. वहीं स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रविवार तक 15.4 लाख से अधिक वैक्‍सीन खुराके दी जा चुकी थी, जो राज्‍य में एक दिन में दी गई अब तक की सबसे अधिक खुराक हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज