लाइव टीवी

कश्मीर में आतंकवादी वारदात के बाद निगरानी और आतंकवाद निरोधक अभियान तेज

भाषा
Updated: September 29, 2019, 5:03 PM IST
कश्मीर में आतंकवादी वारदात के बाद निगरानी और आतंकवाद निरोधक अभियान तेज
आतंकवादी वारदात के बाद आतंकवाद निरोधक अभियान तेज

जम्मू कश्मीर (Jammu-Kashmir) में सुरक्षा बलों पर किसी प्रकार के आतंकी हमले (Terrorists attack) को रोकने के लिए सक्रिय रणनीति के तहत आतंकवाद निरोधक अभियानों को तेज कर दिया गया है.

  • भाषा
  • Last Updated: September 29, 2019, 5:03 PM IST
  • Share this:
श्रीनगर. जम्मू कश्मीर (Jammu-Kashmir) में शनिवार को सुरक्षा बलों पर किये गए हथगोला हमले सहित आतंकी घटनाओं के बाद यहां एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों ने निगरानी और आतंकवादियों की तलाशी का अभियान और भी तेज कर दिया है. घाटी में सुरक्षा बलों पर किसी प्रकार के आतंकी हमले को विफल करने के लिए सक्रिय रणनीति के तहत आतंकवाद निरोधक अभियानों को तेज कर दिया गया है.

अधिकारियों ने बताया कि कानून व्यवस्था को जैसा का तैसा रखने के लिए ये अभियान पांच अगस्त से ही चल रहे हैं. इसी दिन केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर से विशेष दर्जा वापस ले लिया था. कानून व्यवस्था के मोर्चे पर स्थिति कुल मिलाकर सामान्य हो गयी है. यह सुनिश्चित करने के लिए कि आतंकवादी किसी प्रकार का हमला नही कर सकें इसके लिए आतंकवाद निरोधक अभियानों को तेज कर दिया गया है.

इस अभियान के तहत महत्वपूर्ण इमारतों के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी गयी है. इसमें श्रीनगर हवाई अड्डा और पुलिस कार्यालय भी शामिल है. घाटी के शहर और अन्य स्थानों पर अतिरिक्त सुरक्षा बंकरों का निर्माण किया जा रहा है ताकि आतंकवादियों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने से रोका जा सके. इस बीच कश्मीर में लगातार 56 वें दिन भी रविवार को सामान्य जनजीवन अस्त व्यस्त रहा.

मुख्य बाजार और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान रविवार को बंद रहे हालांकि कुछ रेहड़ी पटरी वालों ने साप्ताहिक बाजार के तहत सड़क के किनारे दुकानें लगायी थी. स्थानीय तौर पर इसे ‘संडे बाजार’ कहा जाता है.

घाटी के अधिकतर हिस्सों से सरकारी वाहन सड़कों पर दिखाई नही दिये लेकिन कुछ निजी कार और अंतर्जिलास्तरीय कुछ यात्री कैब सड़कों पर दिखायी दीं. पूरी घाटी में लैंडलाइन सेवायें बहाल कर दी गयी हैं. कश्मीर के अधिकतर हिस्सों में मोबाइल और इंटरनेट सेवायें निलंबित हैं.

ये भी पढ़ें : महिलाओं के अधिकार सुरक्षित करने के लिए और प्रयासों की जरूरत: सोनिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 5:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...