मुंबई पुलिस की जांच पर नहीं है सुशांत के परिवार को भरोसा, पिता ने लगाए गंभीर आरोप

मुंबई पुलिस की जांच पर नहीं है सुशांत के परिवार को भरोसा, पिता ने लगाए गंभीर आरोप
सुशांत सिंह केस की सुप्रीम कोर्ट में हो रही है सुनवाई.

SSR Suicide Case: सुप्रीम कोर्ट ने रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) की ओर से सुशांत सिंह राजपूत के पिता द्वारा पटना में दर्ज कराई गई एफआईआर को मुंबई ट्रांसफर करने की मांग वाली याचिका पर भी सुनवाई की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 13, 2020, 5:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में उनके पिता के द्वारा हलफनामा दाखिल कर दिया गया है. अपने हलफनामे में सुशांत के पिता ने सुप्रीम कोर्ट से यह कहा है कि बिहार सरकार (Government of Bihar) के पास इस मामले में FIR दर्ज करने का पूरा अधिकार है और बिहार सरकार के पास सीबीआई (CBI) द्वारा इस मामले में जांच की सिफारिश करने का पूरा अधिकार है. सुप्रीम कोर्ट में अपने हलफनामे में वकील विकास के माध्यम से उन्होंने कहा की जांच के क्षेत्राधिकार नहीं करना चाहिए.

उन्होंने कहा कि अभी तक इस मामले में न तो मुंबई पुलिस द्वारा FIR दर्ज किया गया है और न ही किसी की गिरफ्तारी की गई है. सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने यह भी उनकी चिता को आग लगाने वाले को भी उनसे छीन लिया गया. उन्होंने कहा है कि मुंबई पुलिस किस दिशा में जांच कर रही है यह भी जानकरी नहीं है. ऐसे में नहीं लगता कि उनके परिवार  इंसाफ मिल पाएगा.

मुंबई पुलिस की जांच पर परिवार को भरोसा नहीं
मुंबई पुलिस की जांच पर उनके परिवार वालों को कोई भरोसा नहीं है. सुशांत के पिता ने अपने हलफनामे में सुप्रीम कोर्ट से यह कहा कि इस मामले में उन्होंने 29 और 25 फरवरी को मुंबई पुलिस को व्हाट्सएप के जरिए शिकायत भी दर्ज की थी, लेकिन मुंबई पुलिस के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई साथ ही उन्होंने अपने हलफनामे में यह भी जिक्र किया कि मुंबई पुलिस ने इस मामले में बिहार सरकार के द्वारा भेजे गए पुलिस अधिकारियों को जबरन क्वारंटाइन कर दिया और साथ ही जांच में उनका कोई सहयोग नहीं किया है.
रिया चक्रवर्ती कर चुकी है सीबीआई जांच की मांग


हलफनामे में यह भी कहा गया है कि रिया चक्रवर्ती इस मामले में पहले ही कह चुकी है कि सीबीआई जांच होनी चाहिए तो आप उसी जांच का विरोध क्यों किया जा रहा है. आपको बता दें कि इससे पहले सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई थी और सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षकारों से अपना लिखित हलफनामा दाखिल करने के लिए कहा था हालांकि सुशांत सिंह राजपूत के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था अब देखना बेहद अहम होगा कि सुप्रीम कोर्ट इस मामले किस के पक्ष में अहम आदेश जारी करता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज