• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में नहीं लिखा है डेथ टाइम, वकील ने उठाए कई सवाल

सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में नहीं लिखा है डेथ टाइम, वकील ने उठाए कई सवाल

सुशांत के पिता के वकील ने उनकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर कई सवाल उठाए हैं.

सुशांत के पिता के वकील ने उनकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर कई सवाल उठाए हैं.

Sushant Singh Rajput case: सुशांत के पिता के वकील विकास ने कहा, मैंने सुशांत सिंह राजपूत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट जो मैंने देखी है वह मृत्यु के समय का उल्लेख नहीं करती है जो एक महत्वपूर्ण विवरण है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) सुसाइड मामले में वकील विकास सिंह (Lawyer Vikas Singh) लगातार रिया चक्रवर्ती और महाराष्ट्र पुलिस पर सवाल उठाते रहे हैं. अब विकास सिंह ने सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट (Post mortem Report) पर सवाल उठाया है. न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत करते हुए सुशांत के पिता के वकील विकास ने कहा, मैंने सुशांत सिंह राजपूत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट जो मैंने देखी है वह मृत्यु के समय का उल्लेख नहीं करती है जो एक महत्वपूर्ण विवरण है. क्या उसे मारने के बाद फांसी दी गई थी या उसकी मौत फांसी से हुई थी.' उन्होंने कहा कि ये सभी बातें मौत के समय से स्पष्ट हो सकती हैं.

    इससे पहले सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह ने कहा था, "मेरी शिकायत में साफ तौर पर कहा गया है कि मुंबई पुलिस इस मामले में मिली हुई है. वो ठीक से जांच नहीं कर रहे हैं. मुझे बिहार में FIR दर्ज कराने का पूरा अधिकार है. मेरी बेटी मुश्किल से महज 10 मिनट की दूरी पर थी जब उन्होंने दरवाजा खोला और बॉडी को नीचे उतारा. उन्होंने दरवाजा खोलने से पहले ताला तोड़ने वाले को भी वहां से भेज दिया. क्या ये सब हालात संदेहास्पद नहीं लगते हैं?'

    फॉरेंसिक रिपोर्ट में हुए कई अहम खुलासे
    सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या के मामले में कलीना फॉरेंसिक लैब से टॉक्सिकोलॉजी, साइबर, लिजीचार मार्क, नेल सैंपलिंग, स्टमक वॉश रिपोर्ट आ गई है. रिपोर्ट के मुताबिक सुशांत की बॉडी में ऐसा कोई निशान नहीं है जो उनकी हत्या की ओर इशारा करता हो. नेल सैंपलिंग रिपोर्ट में किसी तरह के झपट्टे या खींचने के निशान नहीं मिले हैं. जबकि उनके कपड़ों पर पड़े सफेद रंग के दाग उनके सलाइवा के थे जो आत्महत्या के बाद उनके मुंह से झाग के तौर पर निकले थे और कपड़ों पर ड्राई हो गए थे. रिपोर्ट में कहा गया है कि ये किसी तरह के हमले के निशान नहीं हैं.

    सीबीआई ने 7 अगस्त को​ बिहार ​पुलिस से लिया केस
    गौरतलब है कि सीबीआई ने सात अगस्त को बिहार पुलिस से सुशांत सिंह राजपूत की 14 जून को हुई मौत की जांच का जिम्मा संभाला था. इस मामले में जांच एजेंसी ने रिया और उनके परिवार के सदस्यों सहित छह लोगों को नामजद किया है. ईडी ने मनी लॉर्डिंग के मामले में रिया, शौविक, उनके पिता इंद्रजीत, सुशांत के चार्टर्ड अकाउंटेंट संदीप श्रीधर, हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा, फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानी, रिया के सीए रितेश शाह और सुशांत की बहन मीतू सिंह के बयान दर्ज किया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज