Sushant Singh Case: गिरफ्तार हो सकती हैं रिया चक्रवर्ती, NCB ने भी दर्ज किया केस

Sushant Singh Case: गिरफ्तार हो सकती हैं रिया चक्रवर्ती, NCB ने भी दर्ज किया केस
सुशांत सिंह राजपूत और रिया चक्रवर्ती

Sushant Singh Case: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मामले में CBI की टीम अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती (rhea chakraborty) और उनके परिवार को गिरफ्तार कर सकती है. इसके अलावा एनसीबी ने भी इस मामले में केस दर्ज कर लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 26, 2020, 11:05 PM IST
  • Share this:
मुंबई. अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में सीबीआई (CBI) ने CBI की टीम अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) और उनके परिवार को गिरफ्तार कर सकती है. सीबीआई की दो टीमों ने आज रिया के घर पहुंची थीं. सीबीआई ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में उनके साथ फ्लैट में रहने वाले उनके दोस्त सिद्धार्थ पिठानी से बुधवार को लगातार छठे दिन पूछताछ जारी रखी.अधिकारी ने बताया कि सांताक्रूज में कलिना स्थित डीआरडीओ गेस्ट हाउस में पिछले छह घंटे से पिठानी से पूछताछ चल रही है. इसी गेस्ट हाउस में सीबीआई का दल ठहरा हुआ है. सुशांत 14 जून को बांद्रा स्थिति मांट ब्लैंक अपार्टमेंट में अपने फ्लैट में मृत मिले थे. उस समय उनके फ्लैट में पिठानी, रसोइया नीरज सिंह और घरेलू सहायक दीपेश सावंत मौजूद थे.

वहीं मादक पदार्थ नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने रिया चक्रवर्ती और अन्य के खिलाफ प्रतिबंधित दवाओं की उनकी कथित लेनदेन की जांच के लिए बुधवार को एक आपराधिक मामला दर्ज किया. यह मामला अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर की जा रही जांच में सामने आया है. यह जानकारी अधिकारियों ने दी. अधिकारियों ने बताया कि संघीय मादक पदार्थ निरोधक एजेंसी द्वारा दर्ज की गई शिकायत में स्वापक औषधि और मन:प्रभावी पदार्थ अधिनियम (एनडीपीएस) की धारा 20, 22, 27 और 29 लगायी गई हैं. यह शिकायत प्रवर्तन निदेशालय से प्राप्त एक आधिकारिक उल्लेख के आधार पर दर्ज की गई है.

दो दौर की बैठकों के बाद मामला दर्ज करने के निर्देश
अधिकारियों ने कहा कि एनसीबी के महानिदेशक राकेश अस्थाना ने दो दौर की बैठकें कीं और उपलब्ध साक्ष्यों पर गौर करने और कानूनी राय प्राप्त करने के बाद, उन्होंने अपने अधिकारियों को मामला दर्ज करने का निर्देश दिया. अधिकारियों ने कहा कि एनसीबी के उप निदेशक (अभियान) के पी एस मल्होत्रा की निगरानी में एक विशेष टीम गठित की गई है और दिल्ली और मुंबई स्थित इसकी इकाई से एजेंसी के अधिकारी जांच करेंगे.
ये भी पढ़ें-  पाक के 5 बड़े झूठ सुरक्षा परिषद में बेनकाब, भारत ने एक एक कर दिया करारा जवाब



उम्मीद है कि एजेंसी जल्द ही रिया, राजपूत के क्रिएटिव मैनेजर एवं उनके साथ फ्लैट में रह चुके सिद्धार्थ पिठानी, राजपूत के घर एवं व्यापार प्रबंधकों, अकाउंटेंट, उनके घरेलू सहायकों और कुछ और लोगों को पूछताछ के लिए सम्मन कर सकती है.

तीन एजेंसियां कर रहीं मामले की जांच
एनसीबी अब राजपूत मौत मामले में जांच करने वाली तीसरी संघीय जांच एजेंसी है. एनसीबी के अलावा प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और सीबीआई भी इस मामले की जांच कर रही हैं.

प्रवर्तन निदेशालय राजपूत की मौत के मामले में धनशोधन कोण से जांच कर रहा है. ईडी रिया चक्रवर्ती से दो बार पूछताछ कर चुका है. ईडी को रिया के फोन की फोरेंसिक जांच से उससे ‘‘डिलीट किये गए व्हाट्सअप संदेश’’ प्राप्त हुए हैं.

अधिकारियों ने कहा कि डिलीट किये गए संदेशों से प्रतिबंधित मादक पदार्थ के कथित लेनदेन के साथ ही इनकी खरीद और सेवन का संकेत मिलता है जिसमें गांजा भी शामिल है.

रिया से डिलीट किये गए मैसेज को लेकर हुई पूछताछ
अधिकारियों ने कहा कि ईडी ने रिया से इन संदिग्ध ड्रग्स के सौदों के संदेशों के बारे में पूछताछ की है जो उसके फोन से डिलीट किये गए हैं. अधिकारियों ने बताया कि इन आरोपों को लेकर रिया का बयान उसके द्वारा धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत दर्ज किया गया है. ऐसा समझा जाता है कि ‘‘डिलीट किये गए व्हाट्सएप संदेश’’ रिया द्वारा कथित तौर पर कुछ प्रतिबंधित नशीले पदार्थों के बारे में अपने दोस्तों और राजपूत के कुछ घरेलू सहायकों से बात करने से संबंधित हैं. उन्होंने कहा, एनसीबी इन प्रतिबंधित दवाओं के संभावित ‘‘स्रोत, अवैध व्यापार, सेवन और हैंडलिंग’’ और इसके राजपूत के साथ ही उनकी मृत्यु से संभावित जुड़़ाव की जांच करेगी.

रिया के वकील सतीश मानेहशिंदे ने 28 वर्षीय अभिनेत्री के खिलाफ मादक पदार्थ संबंधी आरोपों का खंडन किया है. उन्होंने कहा था, ‘‘रिया ने अपने जीवन में कभी ड्रग्स का सेवन नहीं किया. वह रक्त परीक्षण के लिए तैयार है.’’

रिया इस मामले में मुख्य आरोपी है और उन्होंने उच्चतम न्यायालय में दायर अपनी अर्जी में कहा है कि वह राजपूत के साथ ‘लिव-इन’ में थीं. ईडी ने कथित मादक पदार्थ संबंधी ‘चैट’ के संबंध में जानकारी सीबीआई के साथ भी साझा की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading