अपना शहर चुनें

States

BJP ज्वाइन नहीं करेंगे शुभेंदु अधिकारी, TMC ने कहा- सभी समस्याओं को हल कर लिया गया है

2019 के लोकसभा चुनाव में सुवेंदु अधिकारी के गढ़ में 13 में से 9 सीटों पर टीएमसी की हुई हार. (फाइल फोटो)
2019 के लोकसभा चुनाव में सुवेंदु अधिकारी के गढ़ में 13 में से 9 सीटों पर टीएमसी की हुई हार. (फाइल फोटो)

Suvendu Adhikari: पार्टी नेतृत्व के साथ मतभेदों की वजह से अधिकारी ने पिछले दिनों राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया, जिसके बाद उनके भाजपा में शामिल होने की अटकलें लगने लगीं. हालांकि, उन्होंने तृणमूल कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता नहीं छोड़ी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 1, 2020, 10:54 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) के असंतुष्ट नेता शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janta Party) में नहीं शामिल होने जा रहे हैं. टीएमसी नेता सौगात रॉय (TMC MP Saugata Roy) ने ये जानकारी दी. सौगात रॉय ने कहा कि "शुभेंदु अधिकारी भाजपा (BJP) में नहीं जा रहे हैं. यह एक मूर्खतापूर्ण धारणा थी. आज मैंने, उनके संग एक सार्थक बैठक की, इस बैठक में प्रशांत किशोर, सुदीप बनर्जी और अभिषेक बनर्जी मौजूद रहे. चीजें सुलझी हुई हैं. वह टीएमसी के साथ हैं और हम ममता को फिर से जीतने के लिए मिलकर काम करेंगे."

तृणमूल कांग्रेस के असंतुष्ट विधायक शुभेंदु अधिकारी ने सोमवार को कहा कि वह अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों के पक्ष में सदा खड़े रहेंगे. अधिकारी ने शुक्रवार को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. पूर्व मेदिनीपुर जिले के नंदीग्राम में ‘रास’ समारोह से इतर बातचीत में अधिकारी ने कहा कि वह इलाके में आने के मौके की तलाश में रहते हैं. अधिकारी नंदीग्राम में भूमि अधिग्रहण के खिलाफ हुए आंदोलन का चेहरा थे और इसी आंदोलन के बूते 2011 में ममता बनर्जी सत्ता में आई थीं. उन्होंने कहा कि वह नंदीग्राम और यहां के लोगों के कल्याण के लिए काम जारी रखेंगे.

ये भी पढ़ें- भारत ने की सऊदी अरामको में हुए हमले की निंदा, कहा- हम सऊदी अरब के लोगों के साथ



पार्टी नेतृत्व के साथ मतभेदों की वजह से अधिकारी ने पिछले दिनों राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया, जिसके बाद उनके भाजपा में शामिल होने की अटकलें लगने लगीं. हालांकि, उन्होंने तृणमूल कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता नहीं छोड़ी थी.
बता दें अधिकारी द्वारा शुक्रवार को पश्चिम बंगाल मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने के कुछ ही घंटे बाद भाजपा ने उनके निर्णय का स्वागत करते हुए इसे ‘‘तृणमूल कांग्रेस के पतन की शुरुआत’’ बताया था और कहा था कि अगर दिग्गज नेता भगवा दल में शामिल होते हैं तो यह दोनों के लिए फायदेमंद होगा.

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकल रॉय ने अधिकारी की प्रशंसा की और कहा कि यह उन पर निर्भर करता है कि वह भगवा दल में शामिल होते हैं अथवा नहीं. राज्य भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि उनकी पार्टी के द्वार अधिकारी और कई अन्य नेताओं के लिये खुले हुए हैं. उन्होंने अधिकारी के इस्तीफे को 'तृणमूल कांग्रेस के अंत' का सूचक बताते हुए कहा कि पार्टी का 'अस्तित्व मिट' जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज