लाइव टीवी

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर तुरंत हो कार्रवाई, सोमपुरा के डिजाइन के अनुसार अयोध्या में मंदिर बने: विहिप

भाषा
Updated: November 10, 2019, 11:21 PM IST
सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर तुरंत हो कार्रवाई, सोमपुरा के डिजाइन के अनुसार अयोध्या में मंदिर बने: विहिप
विहिप ने वास्तुकार चंद्रकांत सोमपुरा द्वारा तैयार किये गये डिजाइन के अनुसार मंदिर बनाने की मांग की है (फोटो- न्यूज18 गुजराती)

विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने वास्तुकार चंद्रकांत सोमपुरा (Chandrakant Sompura) द्वारा तैयार किये गये डिजाइन के अनुसार राम मंदिर (Ram Mandir) बनाने की मांग की है.

  • भाषा
  • Last Updated: November 10, 2019, 11:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने रविवार को कहा कि केंद्र को अयोध्या में राममंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने वाले सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले पर त्वरित कार्रवाई करनी चाहिए. विहिप ने वास्तुकार चंद्रकांत सोमपुरा (Chandrakant Sompura) द्वारा तैयार किये गये डिजाइन के अनुसार मंदिर बनाने की भी मांग की.

परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने पीटीआई भाषा से कहा कि प्रसिद्ध वास्तुकार सोमपुरा को 1989 में विहिप के तत्कालीन प्रमुख अशोक सिंघल (Ashok Singhal) ने डिजाइन तैयार करने को कहा था और उसे देश भर में श्रद्धालुओं के बीच वितरित किया गया था. आलोक कुमार ने कहा, ‘‘हमें उसी के अनुसार नये मंदिर (New Temple) के निर्माण की उम्मीद है.’’

मंदिर में उपयोग किए जाने वाले पत्थरों और खंभों पर हो चुका है काफी काम
विश्व हिंदू परिषद के पदाधिकारियों के अनुसार पत्थरों और खंभों को तराशने का काफी काम हो चुका है और उनका उपयोग मंदिर निर्माण में किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि यहां विहिप (VHP) के पदाधिकारियों की विशेष बैठक में सरकार (Government) से मंदिर निर्माण की दिशा में त्वरित कदम उठाने की अपील करने का निर्णय लिया गया.

विहिप प्रवक्ता विनोद बंसल ने एक बयान में कहा, ‘‘इस फैसले के क्रियान्वयन के लिये केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) की भूमिकाएं भी निर्धारित की गई हैं. इन सरकारों के सतर्क रहने और अपनी जिम्मेदारियों के प्रति सक्रिय रहने में भरोसा जताते हुए उनसे त्वरित कार्रवाई करने का अनुरोध भी किया जाता है.’’

सभी संतों, इतिहासकारों, न्यायविदों और ASI का आभार प्रकट किया
उन्होंने कहा कि सभी संतों, इतिहासकारों, न्यायविदों और भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) के विशेषज्ञों के प्रति आभार प्रकट करते हुए प्रस्ताव पारित किया गया, जिनके अथक परिश्रम से न्यायालय को इस फैसले पर पहुंचने में मदद मिली.
Loading...

उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) ने शनिवार को अपने एक ऐतिहासिक फैसले में अयोध्या में विवादित स्थल पर राममंदिर के निर्माण का आदेश दिया.

यह भी पढ़ें: मध्यस्थता के बाद अयोध्या की जमीन सरकार को देने, इस मस्जिद में नमाज का था सुझाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 10, 2019, 11:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...