Home /News /nation /

Afghanistan Crisis: तालिबान ने काबुल संकट के लिए अशरफ गनी को जिम्मेदार बताया, कहा- पैसा लौटाना होगा

Afghanistan Crisis: तालिबान ने काबुल संकट के लिए अशरफ गनी को जिम्मेदार बताया, कहा- पैसा लौटाना होगा

दोहा न्यूज से सुहैल शाहीन ने कहा कि 'उन्होंने जो कुछ भी लिया है, अगर वह उनसे संबंधित नहीं है, तो बाकी चीजें अफगानिस्तान को वापस करनी होगी.' फाइल फोटो

दोहा न्यूज से सुहैल शाहीन ने कहा कि 'उन्होंने जो कुछ भी लिया है, अगर वह उनसे संबंधित नहीं है, तो बाकी चीजें अफगानिस्तान को वापस करनी होगी.' फाइल फोटो

Taliban spokesperson Suhail Shaheen ने कहा कि तालिबान द्वारा अशरफ गनी का पीछा करने की कोई मंशा नहीं है, क्योंकि समूह का ध्यान अब काबुल में नई सरकार के गठन पर है.

    काबुल. अफगानिस्तान (Afghanistan) के पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी (Ashraf Ghani) को काबुल में फैली अराजकता के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए तालिबान (Taliban) ने कहा है कि अशरफ गनी जो कुछ भी अपने साथ लेकर गए हैं, उन्हें अफगानिस्तान को लौटाना होगा. तालिबान के प्रवक्ता सुहैल शाहीन (Suhail Shaheen) ने 15 अगस्त को काबुल पर कब्जे के बाद काबुल में फैली अराजकता के लिए सीधे तौर पर अशरफ गनी को जिम्मेदार ठहाराया और कहा कि पूर्व राष्ट्रपति ने अचानक सरकार छोड़कर गलती की थी. सुहैल शाहीन ने कहा कि तालिबान काबुल में सत्ता के शांतिपूर्ण हस्तांतरण की उम्मीद कर रहे थे और लड़ाके काबुल के गेट पर इंतजार कर रहे थे. लेकिन, अशरफ गनी अचानक भाग खड़े हुए. उन्होंने सरकार को छोड़ने की गलती की है और इसी के परिणाम स्वरूप लूटपाट और गोलीबारी की घटनाएं हुई हैं.

    दोहा न्यूज को दिए एक इंटरव्यू में अशरफ गनी के भारी मात्रा नकदी के साथ भागने की खबरों पर सुहैल शाहीन ने कहा कि उन्होंने जो कुछ भी लिया है, अगर वह उनसे संबंधित नहीं है, तो बाकी चीजें अफगानिस्तान को वापस करनी होंगी. हालांकि प्रवक्ता ने कहा कि तालिबान द्वारा अशरफ गनी का पीछा करने की कोई मंशा नहीं है, क्योंकि समूह का ध्यान अब काबुल में नई सरकार के गठन पर है. हालांकि अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति काबुल से पैसा लेकर भागने की खबरों का खंडन कर चुके हैं.

    अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने देश में तालिबान की वापसी के बाद काबुल छोड़कर भागने के अपने फैसले का बचाव करते हुए 19 अगस्त को कहा कि खून-खराबा रोकने का यही एक रास्ता था. उन्होंने ताजिकिस्तान में अफगानिस्तान के राजदूत के उन दावों को भी खारिज कर दिया कि उन्होंने राजकोष से लाखों डॉलर की चोरी की है. गनी ने अपने फेसबुक पेज पर एक वीडियो पोस्ट किया, जिससे यह पुष्टि हो गयी कि वह संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हैं. उन्होंने अपने संदेश में अफगान सुरक्षा बलों का शुक्रिया अदा किया, लेकिन साथ ही कहा कि ‘‘शांति प्रक्रिया की नाकामी’’ के कारण तालिबान ने सत्ता छीन ली.

    पढ़ेंः काबुल एयरपोर्ट के पास फिर एयरस्ट्राइक, मिसाइल इंटरसेप्टर्स ने मार गिराए रॉकेट

    उन्होंने अप्रत्यक्ष तौर पर ताजिकिस्तान में अफगानिस्तान के राजदूत के उन आरोपों को भी खारिज करने की कोशिश की कि उन्होंने राजकोष से 16.9 करोड़ डॉलर चोरी किए. उन्होंने दावा किया कि उन्हें ‘‘एक जोड़ी पारंपरिक कपड़ों और सैंडल में अफगानिस्तान छोड़ना पड़ा, जो उन्होंने पहन रखे थे.’’ गनी ने कहा, ‘‘इन दिनों आरोप लगाए गए हैं कि पैसा लिया गया, लेकिन ये आरोप पूरी तरह निराधार हैं.’’ गनी तालिबान के काबुल में घुसने के बाद अफगानिस्तान छोड़कर चले गए थे.

    Tags: Ashraf Ghani, Kabul, Suhail Shaheen, Tajikistan, Taliban, अशरफ गनी, काबुल, ताजिकिस्तान, तालिबान, सुहैल शाहीन

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर