Assembly Banner 2021

तमिलनाडु विधानसभा चुनाव: DMK ने तय किया सीट शेयरिंग फॉर्मूला, 25 सीटों पर लड़ेगी कांग्रेस

इसके साथ ही हर साल 10 लाख नौकरियां पैदा की जाएंगी और अगले 10 सालों में 1 करोड़ लोगों को गरीबी रेखा से बाहर निकाल लाएंगे.

इसके साथ ही हर साल 10 लाख नौकरियां पैदा की जाएंगी और अगले 10 सालों में 1 करोड़ लोगों को गरीबी रेखा से बाहर निकाल लाएंगे.

Tamil Nadu Assembly Election 2021: डीएमके ने इस बार के विधानसभा चुनाव के लिए अब तक कुल 5 पार्टियों के साथ गठजोड़ किया है. तमिलनाडु विधानसभा के लिए एक फेज में 6 अप्रैल को चुनाव होंगे, जिसके नतीजे 2 मई को आएंगे.

  • Share this:
चेन्नई. आखिरकार लंबी खींचतान के बाद द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम (DMK) और कांग्रेस (Congress) के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर बात बन गई है. इस बार तमिलनाडु में विधानसाभा चुनाव (Tamil Nadu Assembly Election 2021) में कांग्रेस 25 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. शनिवार देर रात डीएमके चीफ एमके स्टालिन के घर पर बैठक में गठबंधन को लेकर आखिरी फैसला लिया गया. इस बैठक में तमिलनाडु, पुडुचेरी और गोवा के कांग्रेस प्रभारी दिनेश गुंडू राव और तमिलनाडु कांग्रेस के अध्यक्ष केएस अलागिरी भी मौजूद थे.

डीएमके ने कांग्रेस को कन्याकुमारी की लोकसभा सीट भी देने का फैसला किया है. यहां उपचुनाव होने हैं. एच वसंतकुमार के निधन के बाद ये सीट खाली हो गई है. बता दें कि बीजेपी ने इस सीट के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री पोन राधाकृष्णन को अपना उम्मीदवार बनाया है. उधर पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति ने भी इस सीट से चुनाव लड़ने की इच्छा जताई है. उन्होंने इसके लिए अर्जी प्रियंका गांधी को भेजी है.

अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद
2016 के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस 41 सीटों पर चुनाव लड़ी थी. जहां उन्हें 8 सीटों पर जीत मिली थी. इस बार कांग्रेस 30 सीटों की मांग कर रही थी. लेकिन डीएमके से बीत नहीं बनी. कांग्रेस तमिलनाडु प्रभारी दिनेश गुंडू राव ने कहा, 'इस बार हमारा गठबंधन शानदार प्रदर्शन करेगी. हम भाजपा को एक कड़ा संदेश देंगे.'
DMK और कांग्रेस के बीच खींचतान


बता दें कि इससे पहले कांग्रेस और DMK के बीच सीटों को लेकर जबरदस्त खींचतान चल रही थी. दो दिन पहले केएस अलागिरी ने कहा था कि DMK के बर्ताव को लेकर वो अपमानित महसूस कर रहे हैं. कहा जा रहा है कि डीएमके ने कांग्रेस के सीनियर नेताओं के साथ जिस तरह का व्यवहार किया उसे देखकर अलागिरी बेहद नाराज़ हैं. कांग्रेस के कार्यकारी सदस्यों को संबोधित करते हुए उनकी आंखों में आंसू भी आ गए थे.

ये भी पढ़ें:- बंगाल के डेबरा में दिलचस्प हुआ मुकाबला, एक सीट पर 2 पूर्व IPS अफसर में टक्कर

DMK का गठबंधन
कांग्रेस के अलावा DMK 6 सीटों पर CPI के साथ चुनाव लड़ेगी. इसके साथ ही DMK ने इस बार के विधानसभा चुनाव के लिए अब तक कुल पांच पार्टियों के साथ 42 सीटों के लिए गठजोड़ किया गया है. ये पार्टी है- VCK, CPI, IUML और MMK और कांग्रेस.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज