• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • तमिलनाडु के मुख्यमंत्री स्टालिन ने पीएम मोदी से किया ऐसा आग्रह, सब रह गए दंग

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री स्टालिन ने पीएम मोदी से किया ऐसा आग्रह, सब रह गए दंग

नरेंद्र मोदी और एमके स्टालिन.

नरेंद्र मोदी और एमके स्टालिन.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति पर तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, ओडिशा, महाराष्ट्र और केरल के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की. तमिलनाडुु के मुख्‍यमंत्री स्‍टालिन ने पीएम मोदी से आग्रह किया कि राज्‍य के लोगों के लिए वैक्‍सीन की 1 करोड़ खुराक दीं जाए. स्टालिन ने मोदी से अनुरोध किया कि कोरोना वायरस महामारी से निपटने से संबंधित सभी सामान को माल और सेवा कर (जीएसटी) से मुक्त किया जाना चाहिए और केंद्र को नीट जैसी राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा आयोजित करने के अपने फैसले पर पुनर्विचार करना चाहिए क्योंकि इससे वायरस फैलने की आशंका है.

  • Share this:
    चेन्नई . तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने शुक्रवार को कहा कि तुलनात्मक रूप से राज्य को कोविड-19 टीके की कम खुराकों का आवंटन किया गया है और उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया कि केंद्र को एक विशेष मामले के रूप में एक करोड़ खुराक प्रदान की जानी चाहिए. स्टालिन ने मोदी से अनुरोध किया कि कोरोना वायरस महामारी से निपटने से संबंधित सभी सामान को माल और सेवा कर (जीएसटी) से मुक्त किया जाना चाहिए और केंद्र को नीट जैसी राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा आयोजित करने के अपने फैसले पर पुनर्विचार करना चाहिए क्योंकि इससे वायरस फैलने की आशंका है.

    मुख्यमंत्रियों के साथ मोदी की डिजिटल बैठक में भाग लेते हुए, स्टालिन ने कहा कि उनकी सरकार ने ‘‘टीकों की बर्बादी को पूरी तरह से रोका है’’ और टीकाकरण के महत्व के बारे में जागरूकता पैदा की है. स्टालिन ने कहा कि इस तरह की जागरूकता को देखते हुए तमिलनाडु में टीकों की मांग काफी बढ़ गई है. उन्होंने मोदी से कहा, ‘अन्य राज्यों की तुलना में, हमारे राज्य के लिए आवंटन बहुत कम है. इस कठिन स्थिति को संभालने के लिए, मैंने टीके की एक करोड़ खुराक के विशेष आवंटन का अनुरोध किया है. मुझे इस महत्वपूर्ण मुद्दे में आपके समर्थन की उम्मीद है.’

    ये भी पढ़ें :  कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर केंद्र ने चेताया, कहा- अगले 100 से 125 दिन बेहद अहम

    ये भी पढ़ें :  गुजरात में PM मोदी ने किया रेलवे परियोजनाओं का उद्घाटन, वडनगर स्टेशन को दी खास सौगात

    स्टालिन ने 13 जुलाई को कहा था कि आठ जुलाई, 2021 तक, तमिलनाडु को 18-44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए केंद्र से टीके की केवल 29,18,110 खुराक मिली और 45 वर्ष से ऊपर की श्रेणी के लिए 1,30,08,440 खुराक मिली है. स्टालिन ने मोदी को एक पत्र में कहा था कि आवंटन बहुत अपर्याप्त था और तमिलनाडु को अपनी आबादी के अनुपात में टीके नहीं मिले.

    उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा कहा जाता है कि तीसरी लहर आएगी और हम इससे निपटने के लिए सभी एहतियाती कदम उठा रहे हैं और केंद्र सरकार को ऐसी स्थिति से निपटने के लिए राज्यों को और मदद देनी चाहिए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि तमिलनाडु सरकार महामारी से निपटने के लिए सभी कदम उठाएगी और हम महामारी से उबरने के लिए आपके (केंद्र) और अन्य सभी राज्यों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े होंगे.’’ मोदी ने कोविड-19 स्थिति पर तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, ओडिशा, महाराष्ट्र और केरल के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज