तमिलनाडु चुनाव 2021: भाजपा नेताओं संग अमित शाह ने एक होटल में किया भोजन

तमिलनाडु में करूर जिले के कृष्णारायापुरम स्थित एक रेस्तरां में भाजपा नेताओं संग खाना खाते अमित शाह. (ANI Twitter/1 April 2021)

तमिलनाडु में करूर जिले के कृष्णारायापुरम स्थित एक रेस्तरां में भाजपा नेताओं संग खाना खाते अमित शाह. (ANI Twitter/1 April 2021)

Tamil Nadu Assembly Elections 2021: तमिलनाडु की सभी विधानसभा सीटों पर 6 अप्रैल को एक ही चरण चुनाव होना है, जबकि मतों की गिनती 2 मई को होगी. इस बार के चुनाव में भाजपा ने एआईएडीएमके के साथ गठबंधन किया है, जबकि कांग्रेस ने डीएमके से हाथ मिलाया है.

  • Share this:

चेन्नई. तमिलनाडु विधानसभा चुनाव की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आती जा रही है, भाजपा ने भी वहां अपना प्रचार तेज कर दिया है. इसी सिलसिले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को राज्य के कुछ इलाकों में चुनावी रैली को संबोधित किया और इस दौरान उन्होंने द्रमुक और कांग्रेस के गठबंधन पर निशाना साधा. चुनावी दौरा खत्म करने बाद अमित शाह ने शाम में भाजपा नेताओं के साथ करूर जिले के कृष्णारायापुरम स्थित एक रेस्तरां में भोजन का आनंद लिया. गौरतलब है कि तमिलनाडु की सभी विधानसभा सीटों पर 6 अप्रैल को एक ही चरण चुनाव होना है, जबकि मतों की गिनती 2 मई को होगी. इस बार के चुनाव में भाजपा ने एआईएडीएमके के साथ गठबंधन किया है, जबकि कांग्रेस ने डीएमके से हाथ मिलाया है.



गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को सबसे पहले पुडुचेरी में एक रोड शो में हिस्सा लिया और भाजपा के उम्मीदवारों के लिए वोट मांगे. तमिलनाडु और केरल के साथ केन्द्र शासित प्रदेश में विधानसभा के लिए छह अप्रैल को मतदान होना है. पुडुचेरी के लावसपेट हवाईअड्डे पहुंचने के बाद शाह ने करुणादिकुप्पम में सिद्धानंद मंदिर के दर्शन करने भी गए. केन्द्र शासित प्रदेश में भाजपा ने नौ विधानसभा सीट पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. वहीं राजग में उसके सहयोगी दल एआईएनआरसी ने 16 और एआईएडीएमके ने बाकी पांच सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं.



Youtube Video


पुडुचेरी के बाद अमित शाह ने तमिलनाडु का रुख किया और तिरुकोयिलूर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी की मां के खिलाफ द्रमुक नेता ए राजा की कथित अशिष्ट टिप्पणी को लेकर पार्टी पर यह कहते हुए हमला बोला कि यह दिखाता है कि पार्टी महिलाओं का सम्मान नहीं करती है. उन्होंने कहा कि राज्य की “माताओं और बहनों” को छह अप्रैल के विधानसभा चुनाव में द्रमुक को सबक सिखाना चाहिए. शाह ने द्रमुक पर आरोप लगाया कि वह किसी भी तरह से बस आसानी से चुनाव जीतना चाहती है.


भाजपा की सहयोगी पार्टी अन्नाद्रमुक के नेता पलानीस्वामी के खिलाफ राजा की कथित आपत्तिजनक टिप्पणियों की जिक्र करते हुए शाह ने कांग्रेस और द्रमुक पर कथित भ्रष्टाचार एवं वंशवाद की राजनीति के लिए भी निशाना साधा. उन्होंने कहा, “मैंने द्रमुक नेता ए. राजा के बयान को देखा. मृत महिला के खिलाफ उन्होंने जिस तरह का बयान दिया है, मेरे विचार में उनके अंदर (द्रमुक) महिलाओं के लिए कोई सम्मान नहीं है और वे इस चुनाव को किसी भी कीमत पर जीतना चाहते हैं.”



(इनपुट भाषा से भी)


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज