अपना शहर चुनें

States

तमिलनाडु चुनावः स्वस्थ हुईं वीके शशिकला, रविवार को अस्पताल से होगी छुट्टी

एआईएडीएमके की पूर्व नेता और जयललिता की सहयोगी रहीं शशिकला को रविवार को अस्‍पताल से छुट्टी मिल सकती है.
एआईएडीएमके की पूर्व नेता और जयललिता की सहयोगी रहीं शशिकला को रविवार को अस्‍पताल से छुट्टी मिल सकती है.

Tamilnadu Assembly Election 2021: 2021 की गर्मियों की शुरुआत में तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. माना जा रहा है कि अन्नाद्रमुक में प्रभावशाली रहीं शशिकला इन चुनावों में पार्टी के लिए अहम भूमिका निभा सकती हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 30, 2021, 8:49 PM IST
  • Share this:
बेंगलुरू. अन्नाद्रमुक (AIADMK) की पूर्व नेता और जयललिता (Jayalalithaa) की सहयोगी रहीं शशिकला (VK Sasikala) को रविवार को अस्‍पताल से छुट्टी मिल सकती है. सांस लेने में तकलीफ होने की शिकायत के बाद उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था, जहां अब वे पूर्ण स्‍वस्‍थ बताई गई हैं. उन्‍हें आय से अधिक संपत्ति मामले में चार साल की सजा पूरी करने के बाद अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था. बेंगलुरू मेडिकल कॉलेज (Bengluru Medical College) ने शनिवार को अपने मेडिकल बुलेटिन में बताया कि शशिकला ने दस दिनों तक उपचार कराया है और उनके स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार आया है. उनमें संक्रमण के लक्षण नहीं हैं. उनका ऑक्‍सीजन स्‍तर भी बिना किसी मदद के पिछले तीन दिनों से सामान्‍य बना हुआ है. वे सहारा लेकर चल सकती हैं, पूरी तरह होश में और सजग हैं. उनकी सेहत पर नजर रख रहे डॉक्‍टर्स ने उनको अस्‍पताल से छुट्टी देने का निर्णय लिया है. वे कोरोना लक्षणों से मुक्‍त हैं, लेकिन कुछ दिनों तक उन्‍हें घर में क्‍वारंटीन रहने की सलाह दी गई है.

शशिकला के समर्थकों ने मिठाई बांटी
अस्‍पताल के बाहर शशिकला के समर्थकों ने मिठाई बांटी और उनके समर्थन में नारे लगाए. उन्‍हें सांस लेने में तकलीफ होने की शिकायत पर पहले सरकारी और फिर विक्‍टोरिया अस्‍पताल में 20 जनवरी को भर्ती कराया गया था. उन्‍हें 2017 में आय से अधिक संपत्ति मामले में चार साल की सजा सुनाई गई थी, इस मामले में पूर्व मुख्‍यमंत्री जयललिता मुख्‍य आरोपी थीं. सेंट्रल जेल में उन्‍हें वीआईपी सेवाएं मिल रहीं हैं, ऐसे आरोप भी मीडिया की सुर्खियों में रहे. शशिकला के साथ उनके दो रिश्तेदारों को चार साल सामान्य कारावास की सजा मिली थी. इन तीनों पर अदालत ने 10 करोड़ रुपये के अलावा 10 हजार रुपये का जुर्माना लगाया था.

मालूम हो कि तमिलनाडु में आगामी महीनों में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि एआईएडीएमके में प्रभावशाली रहीं शशिकला इन चुनावों में पार्टी के लिए अहम भूमिका निभा सकती हैं.



वहीं, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने कहा कि पार्टी और सरकार दोनों ही शशिकला से दूरी बनाकर रखेगी. शशिकला की पार्टी में वापसी की खबरों पर उन्‍होंने कहा कि एआईएडीएमके, शशिकला के परिवार से भी दूरी बनाए रखेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज