Assembly Banner 2021

तमिलनाडुः राहुल गांधी बोले- CM ने ED, CBI के डर से अमित शाह के आगे घुटने टेक दिए

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने तमिलनाडु के सलेम में चुनावी सभा को संबोधित किया. ANI

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने तमिलनाडु के सलेम में चुनावी सभा को संबोधित किया. ANI

Rahul Gandhi in Tamilnadu: राहुल गांधी ने कहा, "डीएमके नेता स्टालिन मुख्यमंत्री होंगे, मैं इसकी गारंटी देता हूं. फैसला हो गया है और चुनावों में इस पर मुहर लग जाएगी."

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2021, 7:16 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को अन्नाद्रमुक के शीर्ष नेता एवं तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी पर आरोप लगाया कि भ्रष्टाचार में संलिप्त रहने के चलते वह केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आगे झुकने को मजबूर हुए हैं. राज्य में छह अप्रैल को होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए सलेम में एक जनसभा को संबोधित करते हुए गांधी ने दावा किया कि उन्होंने देखा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तमिलनाडु के मुख्यमंत्री को ‘नियंत्रित’ कर रहे हैं और उन्हें (पलानीस्वामी को) ‘‘चुपचाप उनके चरण स्पर्श करने के लिए मजबूर किया, जिसे मैं स्वीकार नहीं कर सकता.’’

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में एक ‘नेता’ को शाह के आगे झुकने के लिए मजबूर किया गया था, क्योंकि वह (उक्त नेता) भ्रष्ट हैं और इस व्यक्ति ने भ्रष्टाचार के चलते अपनी आजादी खो दी. उन्होंने दावा किया कि पलानीस्वामी की भी यही स्थिति रही है. हालांकि, गांधी ने उत्तर प्रदेश के उस नेता के नाम का उल्लेख नहीं किया. कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘तमिलनाडु का मुख्यमंत्री अमित शाह के आगे झुकना नहीं चाहेगा और तमिलनाडु का कोई भी व्यक्ति ऐसा नहीं करना चाहेगा.’’ गांधी ने आरोप लगाया कि हालांकि, पलानीस्वामी अपने ‘भ्रष्टाचार’ के चलते शाह के आगे झुकने को मजबूर हो गये.

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘दुर्भाग्य से, उन्होंने (पलानीस्वामी) तमिलनाडु के लोगों का जो पैसा चुराया है, उसके चलते वह अब फंस गये हैं.’’ उन्होंने कहा कि भाजपा चाहती है कि देश में हर कोई मोदी और शाह के समक्ष ‘सिर झुकाये’. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी भाईचारे और समानता के विचार में विश्वास करती है. गांधी ने आरोप लगाया कि, ‘‘यह भारत और तमिलनाडु के विचार पर हमला है और यह आरएसएस और नरेन्द्र मोदी द्वारा परिकल्पित है. वे एक ऐसा तमिलनाडु चाहते हैं जो उनके सामने झुक जाए.’’



उन्होंने कहा कि तमिलनाडु भारत की नींव का हिस्सा है. उन्होंने तमिल सीखने की इच्छा भी व्यक्त की. गांधी ने आरोप लगाया कि पिछले चुनावों में तमिलनाडु के राजनीतिक दलों, अन्नाद्रमुक और द्रमुक के बीच मुकाबला था, इस बार एक तरफ अन्नाद्रमुक, आरएसएस, मोदी, शाह (भाजपा) है तो वहीं दूसरी ओर तमिल लोग हैं. उन्होंने विश्वास जताया कि द्रमुक प्रमुख एम के स्टालिन राज्य के अगले मुख्यमंत्री होंगे.

गांधी ने कहा कि तमिलनाडु पर ‘हमला’ हालांकि स्टालिन के मुख्यमंत्री बनने के साथ समाप्त नहीं होगा. उन्होंने कहा कि ऐसा तब होगा जब दिल्ली में भगवा पार्टी को सत्ता से हटा दिया जायेगा. उन्होंने दोहराया कि लोकतंत्र, संविधान और सभी स्वतंत्र संस्थानों पर हमला हो रहा है. उन्होंने तीन कृषि कानूनों, नोटबंदी और वस्तु एवं सेवा कर को लेकर केन्द्र सरकार पर निशाना साधा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज