उत्तर भारतीय वोटर्स पर गुस्साए तमिलनाडु के मंत्री, कहा-BJP को वोट देते हो और हमें धोखा

डीएमके सरकार में मंत्री शेखर बाबू. (तस्वीर-ANI)

डीएमके सरकार में मंत्री शेखर बाबू. (तस्वीर-ANI)

हिंदू रिलिजियस एंड चैरिटेबल एंडाउमेंट डिपार्टमेंट के मंत्री पीके शेखर बाबू (PK Sekar Babu) ने कहा है कि उत्तर भारतीय लोग अमीर तो द्रविड़ पार्टियों की वजह से हो रहे हैं लेकिन वोट बीजेपी को देते हैं. उनकी इस बात पर अब राजनीतिक विवाद खड़ा होता दिखाई दे रहा है.

  • Share this:

चेन्नई. तमिलनाडु की नई-नवेली डीएमके सरकार (DMK Government) के एक मंत्री ने उत्तर भारतीय वोटर्स (North Indian Voters) को लेकर एक विवादित बयान दे दिया है. हिंदू रिलिजियस एंड चैरिटेबल एंडाउमेंट डिपार्टमेंट के मंत्री पीके शेखर बाबू (PK Sekar Babu) ने कहा है कि उत्तर भारतीय लोग अमीर तो द्रविड़ पार्टियों की वजह से हो रहे हैं लेकिन वोट बीजेपी को देते हैं. उन्होंने उत्तर भारतीय वोटर्स पर द्रविड़ पार्टियों को धोखा देने का आरोप लगाया है. उनकी इस बात पर अब राजनीतिक विवाद खड़ा होता दिखाई दे रहा है.

शेखर बाबू ने कहा, 'मैं देख सकता हूं कि आप उत्तर भारतीय लोग लगातार अमीर हो रहे हैं. लेकिन ऐसा बीजेपी की वजह से नहीं हो रहा बल्कि द्रविड़ पार्टियों की वजह से हो रहा है. आप लोगों ने 2011, 2014, 2016, 2019 और 2021 में द्रविड़ पार्टियों को वोट नहीं दिया. जब हम पूछते हैं कि आपने किसको वोट दिया तो जवाब मिलता है कि हमें दिया है. लेकिन इस इलाके में डीएमके को सिर्फ 50 वोट मिले हैं. जबकि बीजेपी को 250 वोट मिले.' यह बात शेखर बाबू ने चेन्नई में राशन वितरण के लिए रखे गए एक कार्यक्रम के दौरान कही हैं.


दो महीने पहले राहुल गांधी के बयान पर मच गया था बवाल
बता दें कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी बीते फरवरी महीने में केरल विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान उत्तर भारतीय वोटर्स पर टिप्पणी की थी जिसके बाद काफी विवाद हुआ था. राहुल गांधी ने कहा था कि दक्षिण भारत की राजनीति में मुद्दों को ज्यादा अहमियत दी जाती है. इसके बाद केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की तरफ से उन्हें घेरा गया था. राहुल गांधी खुद केरल के वायनाड से सांसद हैं. हालांकि चुनावी नतीजों में कांग्रेसी अगुआई वाले यूडीएफ गठबंधन को हार का सामना करना पड़ा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज