अपना शहर चुनें

States

तमिलनाडु: एक समूह के 15 ठिकानों पर IT विभाग ने मारे छापे, 700 करोड़ की बेनामी कमाई मिली

आयकर विभाग ने एक समूह के 15 ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की है. (सांकेतिक तस्वीर)
आयकर विभाग ने एक समूह के 15 ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की है. (सांकेतिक तस्वीर)

Income Tax Raid: वित्त मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, कार्रवाई के दौरान मिली नकदी को जब्त कर लिया गया है. कार्रवाई की बाद जारी की गई विज्ञप्ति में कहा गया है 'यह पता चला है कि समूह दूसरे कॉन्ट्रैक्ट के खर्चों और खरीदी को बढ़ा-चढ़ाकर दिखाता था.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 18, 2020, 2:14 PM IST
  • Share this:
चेन्नई. तमिलनाडु (Tamilnadu) में आयकर विभाग (Income Tax Department) ने गुरुवार को बड़ी कार्रवाई की है. वित्त मंत्रालय ने जानकारी दी कि आयकर विभाग ने एक समूह के चेन्नई और इरोड स्थित 15 ठिकानों पर छापे मारे (IT Raid). जानकारी के अनुसार, विभाग को इस कार्रवाई में 21 करोड़ रुपए की बेनामी नकदी मिली थी, जिसमें बाद में जब्त किया गया है. यह समूह सरकारी कामों में शामिल एक एक बड़ा सिविल ठेकेदार है.

मंत्रालय ने बताय कि यह समूह तटीय इलाकों में समुद्र की लहरों को रोकने में दीवार बनाने के काम करता है. इसके अलावा समूह के पास बस ट्रांसपोर्ट, शादियों के हॉल और खाने वाले मसालों का भी काम है. मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, कार्रवाई के दौरान मिली नकदी को जब्त कर लिया गया है. कार्रवाई की बाद जारी की गई विज्ञप्ति में कहा गया है 'यह पता चला है कि समूह दूसरे कॉन्ट्रैक्ट के खर्चों और खरीदी को बढ़ा-चढ़ाकर दिखाता था.'

यह भी पढ़ें: राजनीतिक हवाला कांड: ED और CBI कर सकती है जांच, MP से लेकर दिल्ली तक जुड़े तार... 



रिलीज में यह कहा गया है 'सप्लायर्स और सब कॉन्ट्रैक्टर्स को की गईं ऐसी बढ़ाई हुई पेमेंट्स नकदी के रूप में वापस आ जाती थी.' विज्ञप्ति के अनुसार, यह बेनामी कमाई करीब 700 करोड़ रुपए की है, जिसे रियल एस्टेट निवेष और व्यापार के विस्तार में लगाया गया है. मंत्रालय ने कहा कि इसके अलावा समूह ने इस बात को कबूला है कि उसके पास अब तक 150 करोड़ रुपयों की अघोषित आय हुई है. उन्होंने जानकारी दी कि कुलमिलाकर 700 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति का पता चला है और तलाशी के दौरान 21 करोड़ रुपए की राशी को जब्त किया गया है.

कुछ दिनों पहले ही आयकर विभाग ने चेन्नई के आईटी सेज डेवलपर, इसके पूर्व निदेशक और एक बड़े स्टील आपूर्तिकर्ता के यहां भी छापामार कार्रवाई की थी. यहां तलाशी में विभाग ने 450 करोड़ की अघोषित आय का पता लगाया था. यह जानकारी वित्त मंत्रालय ने दी थी. विभाग ने यह तलाशी चेन्नई, मुंबई, हैदराबाद और कुड्डलोर स्थित 16 ठिकानों पर की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज