लाइव टीवी

AAP और तृणमूल के बाद अब DMK के लिए चुनावी रणनीति बनाएंगे प्रशांत किशोर

News18Hindi
Updated: February 3, 2020, 9:10 AM IST
AAP और तृणमूल के बाद अब DMK के लिए चुनावी रणनीति बनाएंगे प्रशांत किशोर
प्रशांत किशोर तमिलनाडु में द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) पार्टी के लिए चुनावी रणनीति बनाएंगे.

तमिलनाडु में अगले साल विधानसभा चुनाव (Assembly Elections 2021) होने हैं. राज्य में पिछले करीब एक दशक से विपक्ष में बैठ रही डीएमके (DMK) ने प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) के इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (आई-पैक) के साथ करार का ऐलान किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2020, 9:10 AM IST
  • Share this:
चेन्नई. चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) आम आदमी पार्टी (AAP) और ममता बनर्जी के बाद अब तमिलनाडु में द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) पार्टी के लिए चुनावी रणनीति बनाएंगे. बता दें कि तमिलनाडु में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. राज्य में पिछले करीब एक दशक से विपक्ष में बैठ रही डीएमके ने प्रशांत किशोर के इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (आई-पैक) के साथ करार का ऐलान किया.

डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन ने ट्विटर पर लिखा, 'मुझे इस बात को साझा करते हुए काफी खुशी हो रही है कि तमिलनाडु के कई प्रतिभाशाली और वैचारिक समानता वाले युवा पेशेवर आई-पैक के बैनर तले 2021 चुनाव के लिए हमारे साथ काम करेंगे. ये तमिलनाडु के पुराने गौरव को फिर लाने की रणनीति में हमारी मदद करेंगे.'



आई-पैक ने भी दिया जवाबएमके स्टालिन के ट्वीट पर प्रशांत किशोर की पार्टी आई-पैक ने भी जवाब दिया है. आई-पैक ने लिखा, 'धन्यवाद थिरू एमके स्टालिन यह मौका देने के लिए. आई-पैक की तमिलनाडु टीम डीएमके साथ काम करने को लेकर काफी उत्साहित है और 2021 चुनाव में उसकी जीत सुनिश्चित करने के लिए काम करेगी.' हालांकि, ये भी अटकलें लगाई जा रही हैं कि डीएमके कमल हासन की पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ सकती है.



बता दें कि साल 2016 में जयललिता के निधन के बाद एआईएडीएमके राज्य की सत्ता में है. के पलानीस्वामी राज्य के सीएम हैं और ओ पन्नीरसेल्वम डिप्टी सीएम हैं.

MK STALIN
डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन


TMC और AAP के चुनावी रणनीतिकार हैं प्रशांत किशोर
2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी की जीत और 2015 में बिहार में महागठबंधन की जीत में प्रशांत किशोर महत्वपूर्ण भूमिका निभा चुके हैं. फिलहाल वह पश्चिम बंगाल में टीएमसी और दिल्ली में आम आदमी पार्टी के लिए चुनावी रणनीति बना रहे हैं. बता दें कि पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी की तरह प्रशांत किशोर भी CAA और NRC की खुलकर आलोचना करते रहे हैं.

जेडीयू ने प्रशांत किशोर और पवन वर्मा को पार्टी से बाहर निकाला
इससे पहले बीते हफ्ते जेडीयू में बगावती सुर बुलंद करने वाले प्रशांत किशोर और पवन वर्मा पर नीतीश कुमार ने बड़ी कार्रवाई की थी. दोनों ही नेताओं को बुधवार को पार्टी से बर्खास्त कर दिया गया था. मंगलवार को ही सीएम नीतीश कुमार ने कहा था कि जिसको पार्टी से बाहर जाना है वह जा सकता है.

ये भी पढ़ें:- TMC में जाने की अटकलों पर प्रशांत किशोर बोले- 11 फरवरी को करूंगा घोषणा

पवन वर्मा पर भड़के JDU नेता, कहा- शांत रह कर अपना धंधा-पानी करें

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 8:55 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर