Cyclone Tauktae: गुजरात के लिए आज की रात कठिन, चक्रवाती तूफान टाउते मचा रहा तबाही

Cyclone Tauktae: मौसम विभाग की एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार, दीव में रात 9.30 बजे हवा की गति 133 किमी प्रति घंटे दर्ज की गई, जो निकट भविष्य में बढ़कर 185 घंटे हो सकती है.

Cyclone Tauktae: मौसम विभाग की एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार, दीव में रात 9.30 बजे हवा की गति 133 किमी प्रति घंटे दर्ज की गई, जो निकट भविष्य में बढ़कर 185 घंटे हो सकती है.

Cyclone Tauktae: मौसम विभाग की एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार, दीव में रात 9.30 बजे हवा की गति 133 किमी प्रति घंटे दर्ज की गई, जो निकट भविष्य में बढ़कर 185 घंटे हो सकती है.

  • Share this:

Cyclone Tauktae: चक्रवाती तूफान ‘टाउते’ ने सोमवार देर रात गुजरात में प्रवेश किया. तब 155 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल रही थीं. गुजरात के लिए आज की रात कठिन होगी. अब लैंडफॉल की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है, गुजरात के सौराष्ट्र स्थित ऊना के पास लैंडफॉल की प्रक्रिया हो रही है. तूफान से राज्‍य में भारी तबाही मच सकती है. दीव में 133 किमी प्रति घंटे से अधिक की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं.

मौसम विभाग की एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार, दीव में रात 9.30 बजे हवा की गति 133 किमी प्रति घंटे दर्ज की गई, जो निकट भविष्य में बढ़कर 185 घंटे हो सकती है. सौराष्ट्र के तटीय इलाकों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश शुरू हो गई है. तेज हवाओं के साथ आकाशीय बिजली की आवाज डरा रही है.

अमरेली पंथक के राजुला और जाफराबाद में गर्जना के साथ तेज बारिश हो रही है, अगले दो घंटों में लैंडफॉल प्रक्रिया हो जायेगी. चक्रवाती तूफान से अमरेली, जूनागढ़, गिर सोमनाथ, भावनगर जिले अधिक प्रभावित होंगे. कल से दो दिनों तक भारी बारिश की संभावना है.

चक्रवाती तूफान की मूवमेंट पर सीएम विजय रुपाणी सीधी नजर रख रहे हैं. आज उन्‍होंने कई जिला कलेक्टर से बात की और प्रशासन को सतर्क रहने की हिदायत भी दी. अहमदाबाद, साबरकांठा और पाटन, मेहसाणा जिलों में भी बारिश हो रही है. इससे पहले शाम के समय में दीव समुद्र में भारी लहरें देखी गईं. उस समय करीब 2 मीटर तक लहरें उठ रही थीं. तूफान के चलते अहमदाबाद, राजकोट, वडोदरा एयरपोर्ट आज बंद किए गए हैं.
महाराष्ट्र में चक्रवाती तूफान से छह की मौत, गुजरात में दो लाख लोगों को हटाया गया

भीषण चक्रवाती तूफान सोमवार रात में गुजरात के सौराष्ट्र तट से आ टकराया और इस दौरान हवा 185 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चल रही है. इससे पहले, चक्रवात के कारण मुंबई में भारी वर्षा हुई और गुजरात में दो लाख से अधिक लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना पड़ा. वहीं, इसके चलते दो नौकाएं तट से दूर अरब सागर में चली गई हैं, जिन पर 410 लोग सवार हैं.

आईएमडी ने ट्वीट कर कहा कि चक्रवात का केंद्र अगले तीन घंटे में सौराष्ट्र तट को पार करते हुए पूर्वी दीव की तरफ बढ़ेगा. गुजरात मौसम केंद्र की सहायक निदेशक मनोरमा मोहंती ने कहा, 'हम उम्मीद करते हैं कि चक्रवात गुजरात तट से अगले दो घंटे के भीतर गुजर जाएगा.' उन्होंने कहा कि चक्रवात टाउते गुजरात में पिछले 23 साल में टकराने वाला सबसे विनाशकारी चक्रवात है जोकि केंद्र शासित दीव और भावनगर जिले के महुवा शहर के बीच कहीं टकराएगा.



ये भी पढ़ें: साइक्लोन टाउतेः दो नौकाओं पर फंसे 400+ लोग, बचाव में नेवी ने उतारे 3 युद्धपोत

ये भी पढ़ें: गुजरात में टाउते का कहर, तिनकों की तरह उड़ी केवड़िया रेलवे स्टेशन की छत

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने चक्रवात के टकराने की पुष्टि करते हुए गांधनगर में संवाददाताओं से कहा कि तटीय जिलों अमरेली, जूनागढ़, गिर-सोमनाथ और भावनगर में 150 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं चलेंगी और ये जिले चक्रवात से सर्वाधिक प्रभावित होंगे.


वहीं, महाराष्ट्र में अधिकारियों ने कहा कि महाराष्ट्र के कोंकण क्षेत्र में भीषण चक्रवाती तूफान से संबंधित अलग-अलग घटनाओं में छह लोगों की मौत हो गई और दो नौकाओं के समुद्र में डूब जाने से तीन नाविक लापता हैं. तीन लोगों की मौत रायगढ़ जिले में हुईं, एक नाविक की मौत सिंधुदुर्ग जिले में और ठाणे जिले के नवी मुंबई और उल्हासनगर में दो लोगों की मौत उन पर पेड़ गिरने से हुई.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज