लाइव टीवी

YSR कांग्रेस के प्रदर्शन के बीच एहतियातन हिरासत में लिए गए चंद्रबाबू नायडू

भाषा
Updated: February 27, 2020, 9:17 PM IST
YSR कांग्रेस के प्रदर्शन के बीच एहतियातन हिरासत में लिए गए चंद्रबाबू नायडू
वाईएसआर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के मद्देनजर नायडू की सुरक्षा के कारण उन्हें हवाई अड्डे पर एहतियाती हिरासत में ले लिया गया.

हवाई अड्डे के समीप एन चंद्रबाबू नायडू (N Chandra Babu Naidu) के काफिले को रोकने की कोशिश में जुटे वाईएसआर कांग्रेस (YSR Congress) के कार्यकर्ताओं को जब तेदेपा (TDP) कार्यकर्ता हटाने लगे तब वहां तनाव फैल गया.

  • Share this:
विशाखापट्टनम. आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री एवं तेलुगू देशम पार्टी (Telegu Desham Party) के अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू (N Chandra Babu Naidu) को यहां उनकी यात्रा के विरूद्ध सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस (YSR Congress) के कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के मद्देनजर उनकी सुरक्षा के कारण उन्हें हवाई अड्डे पर एहतियाती हिरासत में ले लिया गया.

हवाई अड्डे के समीप नायडू के काफिले को रोकने की कोशिश में जुटे वाईएसआर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को जब तेदेपा कार्यकर्ता हटाने लगे तब वहां तनाव फैल गया.

नायडू को दिया गया नोटिस
विशाखापट्टनम (Vishakhapattanam) के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार मीणा ने पीटीआई भाषा को बताया कि सीआरपीसी (CRPC) की धारा 151 के तहत नायडू को नोटिस दिया गया और ‘उनकी सुरक्षा की खातिर’ उन्हें एहतियाती हिरासत में ले लिया गया. विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष को यहां हवाई अड्डे पर वीआईपी लॉन्ज भेज दिया गया.



मीणा ने कहा, ‘‘उन्होंने हमारे साथ सहयोग किया और हवाई अड्डे के वीआईपी लांज में जाने को राजी हो गये. वैसे शुरू में हमने उन्हें उनके निर्धारित कार्यक्रम के हिसाब से आगे बढ़ने की अनुमति दी लेकिन बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी थे, इसलिए हमने उनकी सुरक्षा की खातिर उन्हें एहतियाती हिरासत में लेने का फैसला किया.’’



दूसरे क्षेत्र में जाने की थी योजना 
तेदेपा प्रमुख अपने राज्यव्यापी प्रजा चैतन्य यात्रा के तहत विजयनगरम जाते हुए विजयवाड़ा से दोपहर यहां पहुंचे थे. उन्हें विशाखापट्टनम में गोपालपट्टनम और उसके आसपास के अन्य क्षेत्रों में जाना था लेकिन वाईएसआर कांग्रेस ने उनकी यात्रा के विरोध में प्रदर्शन आयोजित किया था.

पुलिस आयुक्त ने कहा कि दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के बीच कोई झड़प नहीं हुई.

ये भी पढ़ें-
दिल्ली पुलिस की 'निष्क्रियता' वैसी ही है जैसी 1984 में देखी थी: अकाली दल सांसद

महाराष्‍ट्र सरकार का बड़ा फैसला, भीमा कोरेगांव-मराठा आंदोलन के 808 केस वापस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 8:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading