अपना शहर चुनें

States

तेलंगाना: टीका लेने वाली आंगनवाड़ी शिक्षिका की मौत, डॉक्टरों ने कहा: वैक्सीनेशन कारण नहीं

तेलंगाना में टीकाकरण करवाने वाली आंगनवाड़ी शिक्षिका की मौत हो गई. (सांकेतिक तस्वीर)
तेलंगाना में टीकाकरण करवाने वाली आंगनवाड़ी शिक्षिका की मौत हो गई. (सांकेतिक तस्वीर)

Covid-19 Vaccination: तेलंगाना में कोरोना वायरस टीकाकरण के कुछ दिन बाद एक आंगनवाड़ी शिक्षिका की मृत्यु की खबर सामने आई है. हालांकि एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि इसका संबंध टीकाकरण से जुड़ा नहीं है.

  • Last Updated: January 31, 2021, 5:45 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद. तेलंगाना (Telangana) के मंचिर्याल जिले में 55 वर्षीय एक आंगनवाड़ी शिक्षिका की एक सरकारी अस्पताल में मौत हो गई. उन्होंने हाल में ही कोविड-19 का टीका (Covid-19 Vaccine) लगवाया था. स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उनकी मौत का संबंध टीका लेने से जुड़ा नहीं है. उनकी मौत शनिवार को निजाम्स इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई. उन्हें 19 जनवरी को टीके की खुराक दी गई थी.

मंचिर्याल जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर एम नीरजा ने बताया, ‘‘ वह उच्च रक्तचाप की मरीज थीं तथा फेफड़े की बीमारी से भी जूझ रही थीं. हमारा मानना है कि उनकी मौत टीका लगने की वजह से नहीं हुई.’’ सुशीला की हालत बिगड़ने पर इस अस्पताल में दो दिन पहले ही भर्ती किया गया था. इसी बीच तेलंगाना के स्वास्थ्य मंत्री ई राजेंद्र ने कहा कि राज्य सरकार ने स्वास्थ्य कर्मियों को टीके के संबंध में परामर्श देने और उनकी आशंकाओं को दूर करने के लिए एक व्यवस्था बनाई है.

ये भी पढ़ें- तय समय से 2 दिन पहले खत्म होगा बजट सत्र, विपक्षी दल उठाएंगे किसानों का मुद्दा



देश में अब तक 37 लाख लोगों को लगाई गई कोरोना वैक्सीन
बता दें देश भर में अब तक 37 लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों को कोविड-19 का टीका लगाया जा चुका है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को यह जानकारी दी. मंत्रालय ने कहा कि शनिवार को टीकाकरण के 15वें दिन 2,06,130 लोगों को टीका लगाया गया और टीका लगने के बाद प्रतिकूल प्रभाव के 71 मामले सामने आए. मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ''अनंतिम रिपोर्ट के अनुसार, टीका लगवा चुके स्वास्थ्य कर्मियों की कुल संख्या (शनिवार शाम सात बजे तक) 37,06,157 है. ''

बयान में कहा गया है कि अब तक उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक 4,63,793 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया है. इसके बाद राजस्थान में 3,26,745 स्वास्थ्य कर्मियों को, कर्नाटक में 3,15,343, मध्य प्रदेश में 2,73,872 और महाराष्ट्र में 2,69,064 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जा चुका है.

ये भी पढ़ें- शशिकला ने बढ़ाया सियासी पारा, AIADMK के झंडे के साथ अस्पताल से निकलीं

मंत्रालय ने कहा कि भारत ने न केवल सबसे तेजी से 10 लाख लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य हासिल किया है बल्कि 20 लाख और 30 लाख लोगों को टीका लगाने के मामले में भी देश पहले पायदान पर रहा है.

केंद्र सरकार ने राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से कोविड-19 से निपटने के वास्ते टीका लगवाने वाले लाभार्थियों की संख्या और प्रतिदिन टीकाकरण सत्रों को बढ़ाने के लिए कहा है. केंद्र ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों का फरवरी के पहले सप्ताह से टीकाकरण शुरू करने के लिए कहा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज