एक और महायज्ञ की तैयारी में हैं तेलंगाना सीएम KCR

केसीआर की फाइल फोटो
केसीआर की फाइल फोटो

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव पूजा-पाठ, यज्ञ, ज्योतिष और कर्मकांड के लिए अक्सर चर्चा में रहते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 4, 2019, 4:01 PM IST
  • Share this:
रुद्र सहित सहस्र चंडी महायज्ञ के बाद तेलंगाना के मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव एक और महायज्ञ की तैयारी कर रहे हैं. यह महायज्ञ हैदराबाद से करीब 60 किलोमीटर दूर यादाद्रि में मौजूद लक्ष्मी नरसिम्हा स्वामी मंदिर में होगा. केसीआर मंदिर का पुनरुद्धार करा रहे हैं. पुनरुद्धार के बाद मंदिर में सहस्त्र अष्ट (1008) यज्ञ कुंड बनाए जाएंगे. यज्ञ संपन्न कराने के लिए 6000 पुजारियों को बुलाने और 133 देशों के वैष्णव भक्तों को आमंत्रित करने की योजना है.

पूर्णाहुति के बाद मंदिर को आम लोगों के लिए खोल दिया जाएगा. आयोजन वाले दिन 10 से 15 लाख श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद की जा रही है. केसीआर ने मंदिर निर्माण का निरीक्षण कर काम जल्दी पूरा करने का आदेश दिया है. मुख्य मंदिर बनकर लगभग तैयार हो चुका है. मंदिर में 7 गोपुरम बनाए जा रहे हैं. परिक्रम पथ, रथशाला और शिवालय का निर्माण कार्य जारी है. मंदिर के आसपास की जमीन के अधिग्रहण के लिए 70 करोड़ रुपये स्वीकृत किए जा चुके हैं. मंदिर का डिजाइन फिल्मों के सेट डिजायनर आनंद साईं ने तैयार किया है.

ये भी पढ़ें: OPINION| राजनीतिक परिवारों में कैसे भतीजों पर भारी पड़ जाते हैं बेटे



2018-19 के बजट में तेलंगाना सरकार ने मंदिर के विकास के लिए 250 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था. उससे पहले दो सालों में मंदिर के लिए 100-100 करोड़ के बजट का प्रावधान था. अब तक कुल मिलाकर 450 करोड़ रुपये का बजट मंदिर निर्माण के लिए स्वीकृत किया जा चुका है. मंदिर के चारों तरफ करीब 1000 एकड़ के इलाके को विकसित किया जा रहा है. मंदिर को तिरुपति बालाजी की तर्ज पर विकसित किया जा रहा है.
आंध्र प्रदेश से अलग तेलंगाना राज्य के विभाजन के बाद तिरुपति बालाजी मंदिर आंध्र प्रदेश में चला गया है. तिरुपति बालाजी में हर साल लाखों श्रद्धालू आते हैं और रोजाना 2.5 से 3.5 करोड़ रुपये का चढ़ावा चढ़ता है. पिछले साल 26 जुलाई को तिरुपति बालाजी मंदिर में 6 करोड़ 28 लाख रुपये का चढ़ावा चढ़ा था, जो एक रिकॉर्ड है.

मंदिर के खजाने में 50 हजार करोड़ से ज्यादा की संपत्ति बताई जाती है. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव पूजा-पाठ, यज्ञ, ज्योतिष और कर्मकांड के लिए अक्सर चर्चा में रहते हैं. हाल ही में उन्होंने अपने गांव येर्रावल्ली में सहस्र चंडी महायज्ञ कराया था. उस महायज्ञ में करीब 300 पुजारियों ने हिस्सा लिया था और सभी को दक्षिणा के तौर पर केसीआर ने एक-एक लाख रुपये दिए थे.

केसीआर इससे पहले विशाल आयुत चंडी महायज्ञ भी कर चुके हैं. उन्होंने तिरुपति बालाजी और विजयवाड़ा में कनक दुर्गा मंदिर में सोने के गहने और नकदी भेंट की थी. तेलंगाना में उनकी सरकार को बने 50 दिन से ज्यादा बीत चुके हैं, लेकिन उन्होंने मंत्रिमंडल का विस्तार अब तक नहीं किया है. केसीआर के अलावा उनके मंत्रिमंडल में इस वक्त सिर्फ गृह मंत्री मोहम्मद महमूद अली भर हैं. माना जा रहा है कि केसीआर को शुभ घड़ी का इंतजार है और शुभ घड़ी आने पर ही वह अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज