गैर बीजेपी- गैर कांग्रेस फेडरल फ्रंट के लिए KCR ने मुहिम शुरू की

सोमवार को केसीआर केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन से मुलाकात करेंगे. 13 तारीख को केसीआर चेन्नई जाएंगे और वहां डीएमके प्रमुख एम के स्टालिन से मुलाकात करेंगे.

News18Hindi
Updated: May 6, 2019, 2:49 PM IST
गैर बीजेपी- गैर कांग्रेस फेडरल फ्रंट के लिए KCR ने मुहिम शुरू की
गैर बीजेपी-गैर कांग्रेस सरकार बनाने के लिए कवायद तेज़, संघीय मोर्चे की तैयारी में केसीआर (image credit: PTI)
News18Hindi
Updated: May 6, 2019, 2:49 PM IST
(पीवी रमन्ना कुमार)

2019 लोकसभा चुनावों के लिए पांचवें चरण का मतदान जारी हैं. बीजेपी और कांग्रेस दोनों को ही बहुमत की स्थिति में न देख तेलंगाना के मुख्यमंत्री और टीआरएस प्रमुख के चंद्रशेखर राव केंद्र में गैर-बीजेपी, गैर-कांग्रेस सरकार के लिए फेडरल फ्रंट बनाने के प्रयास करने शुरू कर दिए हैं. इसी मुहिम के तहत सोमवार को केसीआर केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन से मुलाकात करेंगे. 13 तारीख को केसीआर चेन्नई जाएंगे और वहां डीएमके प्रमुख एम के स्टालिन से मुलाकात करेंगे.

इस बीच ख़बर है कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री और जनता दल सेक्यूलर के नेता कुमारस्वामी ने केसीआर से फोन पर बात की है. बताया जा रहा है कि केसीआर हैदराबाद लौटने से पहले प्रसिद्ध रामेश्वरम और श्रीरंगम मंदिरों के दर्शन भी करेंगे.

पिछले साल ही केसीआर ने राष्ट्रीय स्तर के क्षेत्रीय दलों के साथ संघीय मोर्चे की पहल शुरू कर दी थी. केसीआर पहले ही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी, ओडिशा के मुख्यमंत्री और बीजू जनता दल प्रमुख नवीन पटनायक, समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव, जेडीएस नेता देवेगौड़ा और कुमारस्वामी, डीएमके प्रमुख दिवंगत करुणानिधि और एमके स्टालिन से बातचीत कर चुके हैं.

केसीआर ने वाईएसआर कांग्रेस पार्टी को भी संघीय मोर्चे में शामिल होने का आमंत्रण दिया है. टीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष केटी रामा राव ने वाईएसआरसीपी प्रमुख जगनमोहन रेड्डी से मिलकर इस प्रस्ताव पर विचार-विमर्श किया है. बताया जा रहा है कि जगनमोहन रेड्डी ने प्रस्ताव स्वीकार कर लिया है.

चंद्रशेखर राव को विश्वास है कि 2019 लोकसभा चुनावों में बीजेपी और कांग्रेस दोनों को बहुमत हासिल नहीं होगा और ऐसे में क्षेत्रीय दल अहम भूमिका अदा करेंगे.

टीआरएस के एक वरिष्ठ नेता ने न्यूज़ 18 से कहा, 'हमारे मुख्यमंत्री क्षेत्रीय पार्टियों के साथ मिलकर सरकार बनाना चाहते हैं. निश्चित रूप से ऐसा संभव होगा. टीआरएस को 16 लोकसभा सीटें हासिल होंगी और वाईएसआरसीपी को आंध्र प्रदेश में काफी सीटें मिलेंगी. हम संघीय मोर्चे में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे.'
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsAppअपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 6, 2019, 2:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...