तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री के चंद्रशेखर राव की मांग- केंद्र सरकार पूर्व PM पीवी नरसिम्हा राव को दे भारत रत्‍न

केसीआर ने पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव को भारत रत्‍न देने की मांग उठाई है.
केसीआर ने पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव को भारत रत्‍न देने की मांग उठाई है.

केसीआर (KCR) ने कहा कि वह पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव (former prime minister PV Narasimha Rao) को मरणोपरांत 'भारत रत्‍न' (Bhatath Rathna) प्रदान करने के संबंध में एक प्रस्‍ताव को विधानसभा में पारित करेंगे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से खुद मिलकर कैबिनेट मंजूरी वाले प्रस्‍ताव को सौपेंगे.

  • Share this:
हैदराबाद. तेलंगाना (Telangana) के मुख्‍यमंत्री के चंद्रशेखर राव (K Chandrasekhar Rao) ने मंगलवार को केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) से पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव को मरणोपरांत 'भारत रत्‍न' (Bhatath Rathna) प्रदान करने का आग्रह किया. केसीआर (KCR) ने कहा कि वह इससे संबंधित एक प्रस्‍ताव को विधानसभा में पारित करेंगे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से खुद मिलकर कैबिनेट मंजूरी वाले प्रस्‍ताव को सौपेंगे. प्रगति भवन में एक समीक्षा बैठक के दौरान केसीआर ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री को उचित श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए उनके जन्‍म शताब्‍दी समारोह का आयोजन पूरे एक साल तक किया जाएगा.

केसीआर ने कहा क‍ि 50 देशों में आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रमों के लिए हम 10 करोड़ रुपये आवंटित कर रहे हैं. कोरोना वायरस महामारी के कारण पीवी ज्ञान भूमि में 28 जून को आयोजित होने वाले कार्यक्रम के लिए सीमित लोगों को अनुमति दी जाएगी. केसीआर ने केंद्र सरकार से संसद में पीवी नरसिम्हा राव की तस्‍वीर लगाने का आग्रह किया है. पीवी मेमोरियल के लिए सांसद के केशव राव की अध्यक्षता में एक समिति बनाई जाएगी. केसीआर ने कहा कि पीवी नरसिम्हा राव की कांस्य की प्रतिमाएं हैदराबाद, वारंगल, करीम नगर, वानगरा और दिल्ली के तेलंगाना भवन और राज्य विधानसभा में स्थापित की जाएंगी.

ये भी पढ़ें:  भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बने रहने में हुआ सफल, ग्‍लोबल GDP में 8,051 अरब डॉलर की हिस्‍सेदारी



तेलंगाना के करीमनगर में हुआ था पीवी नरसिम्‍हा राव का जन्‍म
17 भाषाओं के जानकार और देश के पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव का जन्म 28 जून, 1921 को हुआ था. उनका जन्‍म तेलंगाना के एक छोटे से गांव करीमनगर में हुआ था. उन्‍होंने पुणे के फरग्यूसन कॉलेज में पढ़ाई की और यूनिवर्सिटी ऑफ मुंबई से लॉ की डिग्री हासिल की. इसके अलावा उन्‍होंने हैदराबाद के उस्मानिया विश्वविद्यालय और नागपुर विश्वविद्यालय से भी पढ़ाई की. पीवी नरसिम्‍हा राव का पूरा नाम पामुलापति वेंकट राव था. पेशे से कृषि विशेषज्ञ और वकील नरसिम्‍हा राव राजनीति में आए. इस दौरान उन्होंने कुछ महत्वपूर्ण विभागों का कार्यभार संभाला.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज