तेलंगाना : नौकरी की तलाश कर रहे 50 भारतीय युवक इराक में फंसे

तेलंगाना के इन युवकों को नौकरी का लालच देकर विजिटर वीजा पर इराक ले जाया गया था. इराक में उन्हें कंस्ट्रक्शन साइट्स पर काम करने को मजबूर होना पड़ रहा है.

News18Hindi
Updated: July 7, 2019, 12:43 PM IST
तेलंगाना : नौकरी की तलाश कर रहे 50 भारतीय युवक इराक में फंसे
तेलंगाना : नौकरी की तलाश कर रहे 50 भारतीय युवक इराक में फंसे
News18Hindi
Updated: July 7, 2019, 12:43 PM IST
साल 2014 में सीरिया में 39 भारतीयों के मारे जाने की घटना को अभी लोग भूल भी नहीं पाए थे कि एक बार फिर भारतीयों के विदेश में फंसने का मामला सामने आया है. एजेंट के झांसे में आकर इस बार तेलंगाना के युवक इराक में फंस गए हैं. तेलंगाना के शहर मंचेरियन के 50 से अधिक युवक एजेंटों की धोखाखड़ी और मानव तस्करी के गिरोह का शिकार हुए हैं. इन सभी युवकों को इराक के शहर इरबिल में रखा गया है और जबरदस्ती काम कराया जा रहा है.

बताया जाता है कि तेलंगाना के इन युवकों को नौकरी का लालच देकर विजिटर वीजा पर इराक ले जाया गया था. इन सभी लोगों को इराक में अच्छी नौकरी दिलाने का वादा किया गया था लेकिन इराक में उन्हें कंस्ट्रक्शन साइट्स पर काम करने को मजबूर होना पड़ रहा है. मंचेरियल के कावल गांव के रहने वाले इन लोगों के परिजनों का आरोप है कि कागजी कार्रवाई में फंसाकर उन्हें इराक में रहने को मजबूर किया जा रहा है. यही नहीं इन लोगों को बार-बार स्थानीय प्रशासन की कार्रवाई से होकर भी गुजरना पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें :- नौ महीने की बच्ची से रेप की कोशिश के बाद आरोपी ने गला दबाकर की हत्या

बताया जाता है कि इरबिल में फंसे इन भारतीयों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और जेल में डाल दिया है. पकड़े गए भारतीयों के परिजनों ने जब उन्हें गिफ्तार करने के बारे में पूछा तो उन्हें कुछ भी बताने से इनकार कर दिया गया. परिजनों को अभी तक इस बात की जानकारी नहीं मिल सकी है कि उन्हें किस अपराध में पकड़ा गया है. परिजनों का आरोप है कि नौकरी न होने के कारण लोग इस तरह के झांसे में फंस रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :- अपनी जमीन के लिए आदिवासियों ने नाराज देवताओं को मनाया, अब सरकार भी मानेगी बात!

परिजनों का आरोप है कि जिस एजेंट ने इन लोगों को इराक में नौकरी दिलाने का वादा किया था, उसने भरोसा दिलाया था कि उन्हें 50 हजार रुपये प्रति माह दिया जाएगा. हालांकि इराक पहुंचते ही इन सभी लोगों के पासपोर्ट एजेंट्स ने ले लिए और इन्हें कम पैसों में काम कराने पर मजबूर किया गया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 7, 2019, 12:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...