• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • मनमानी नहीं कर सकेंगे प्राइवेट अस्पताल, तेलंगाना ने तय की कोरोना इलाज और टेस्टिंग की फीस

मनमानी नहीं कर सकेंगे प्राइवेट अस्पताल, तेलंगाना ने तय की कोरोना इलाज और टेस्टिंग की फीस

तेलंगाना सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों की मनमानी पर रोक लगाई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

तेलंगाना सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों की मनमानी पर रोक लगाई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

राज्य सरकार (Telangana government) ने प्राइवेट लैब (Private Labs) द्वारा कोरोना टेस्टिंग की अधिकतम फीस 22 सौ रुपये तय कर दी. इसके अलावा प्राइवेट अस्पतालों में इलाज करा रहे कोरोना मरीजों को अब एक दिन का अधिकतम 4 से 9 हजार रुपये देना होगा.

  • Share this:
    हैदराबाद. कोरोना वायरस (Corona Virus) के देशभर में बढ़ते मामलों के बीच प्राइवेट अस्पतालों (Private Hospitals) की मनमानी भी बढ़ती जा रही है. ऐसे में अब सरकारें प्राइवेट अस्पतालों पर इलाज फीस की अधिकतम सीमा तय करने की सोच रही हैं. सबसे पहले तेलंगाना की सरकार (Telangana Govermnet) ने इस बाबत फैसला लिया है. सोमवार को राज्य सरकार ने प्राइवेट लैब द्वारा कोरोना टेस्टिंग की अधिकतम कीमत 22 सौ रुपये तय कर दी. इसके अलावा प्राइवेट अस्पतालों में इलाज करा रहे कोरोना मरीजों को अब एक दिन का अधिकतम 4 से 9 हजार रुपये देना होगा. गौरतलब है कि ऐसी खबरें आई थीं कि प्राइवेट अस्पताल कोरोना इलाज के लिए मरीजों से लाखों रुपये वसूल कर रहे हैं.

    प्राइवेट लैब्स भी कर सकेंगे कोरोना टेस्ट
    तेलंगाना के हेल्थ मिनिस्टर ई राजेंदर ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि राज्य सरकार ने प्राइवेट लैब्स को भी कोरोना टेस्टिंग की छूट दे दी है. बिना वेंटिलेटर वाले आईसीयू बेड के लिए प्राइवेट अस्पताल अधिकतम 75 सौ रुपये प्रतिदिन की फीस चार्ज कर सकते हैं. जिन मरीजों को वेंटिलेटर सपोर्ट की जरूरत है उन्हें अधिकम 9 हजार रुपये देने होंगे. हालांकि कुछ ही देर बाद जारी किए गए एक दूसरे स्टेटमेंट में कुछ टेस्ट और दवाओं को इस सीमा से बाहर रखा गया है.

    कुछ दवाओं/इंजेक्शन को रखा गया बाहर
    इस पर मिनिस्टर ने कहा कि कुछ एंटी वायरल इंजेक्शन की कीमत बहुत ज्यादा होती है, इस वजह से उन्हें इस ब्रैकेट में शामिल नहीं किया जा सकता. उन्होंने यह भी कहा-प्राइवेट अस्पतालों से कहा है कि वो उन लोगों का टेस्ट न करें जिनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं दिख रहे हैं. प्राइवेट अस्पतालों में किए जा रहे टेस्ट और इलाज की जानकारी सरकार के साथ साझा करने के आदेश भी दिए गए हैं. जिससे कोरोना को लेकर स्पष्ट आंकड़ा सामने आए. गौरतलब है कि इस वक्त तेलंगाना में प्रतिदिन साढ़े सात हजार कोरोना टेस्ट किए जा रहे हैं. हेल्थ मिनिस्टर ने कहा है कि सरकार टेस्ट्स की संख्या बढ़ाने के लिए काम कर रही है.

    केंद्र ने राज्यों से निर्णय लेने को कहा था
    गौरतलब है कि प्राइवेट अस्पतालों की मनमानी के मद्देनजर केंद्र सरकार ने राज्यों से कहा था कि कोरोना को लेकर वो सुनिश्चित करें कि निजी अस्पताल मरीजों से उचित चार्ज लें. केंद्र ने ये भी कहा कि एक बार जब रेट तय हो तो उसे सार्वजनिक किया जाये जिससे किसी तरह का कंफ्यूजन न हो.

    ये भी पढ़ें:-

    दिल्‍ली: अमित शाह के आदेश के बाद मरीजों पर रखी जाएगी नजर, लगेंगे CCTV कैमरे

    BJP कार्यकर्ता लगवाना चाहते हैं अमीर खुसरो की मूर्ति, लेकिन इसलिए मालखाने में है कैद

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज