COVID-19: क्या तेलंगाना में भी लगेगा लॉकडाउन, CM के.सी. राव की मीटिंग में होगा फैसला

के. चंद्रशेखर राव. (पीटीआई फाइल फोटो)

Telangana Coronavirus Lockdown: तेलंगाना और आंध्र प्रदेश को छोड़ दक्षिण भारत के सभी राज्यों में पूर्ण लॉकडाउन लगा हुआ है.

  • Share this:
    हैदराबाद. कोरोना वायरस के मामलों में लगातार हो रही बढ़ोतरी और राज्य में लॉकडाउन लगाने की जोरदार मांग के बीच मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की अगुवाई में तेलंगाना कैबिनेट की एक अहम बैठक मंगलवार दोपहर को होने वाली है. इस बैठक में कोरोना मामलो में इजाफे को लेकर चर्चा करने के साथ ही राज्य में लॉकडाउन लगाने पर फैसला लिया जा सकता है.

    तेलंगाना मुख्यमंत्री कार्यालय ने सोमवार शाम को कहा था, 'कुछ रिपोर्टों में यह सुझाव दिया गया है कि कुछ राज्यों में लॉकडाउन लगाने के बावजूद कोरोना वायरस के मामलों में कोई कमी नहीं आई. इसके विपरीत, लॉकडाउन को लेकर अलग-अलग विचार सामने आ रहे हैं. कुछ लोग राज्य में लॉकडाउन लगाने के पक्ष में हैं. इस परिस्थितियों में, राज्य कैबिनेट लॉकडाउन से होने वाले फायदे व नुकसान पर चर्चा करेगी और क्या धान की रोपनी व उससे संबंधित कार्यों पर लॉकडाउन का असर पड़ सकता है? इस पर भी निर्णय लिया जाएगा.'

    लॉकडाउन लगाने से इनकार कर चुके हैं के चंद्रशेखर राव
    तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने बीते 6 मई को राज्य में लॉकडाउन लगाने की योजना से इनकार किया था और कहा था इससे जन-जीवन के साथ ही अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ेगा. राव ने कहा था कि पूर्व के अनुभव से पता चलता है कि कोविड-19 को रोकने में लॉकडाउन कारगर कदम नहीं है. मुख्यमंत्री ने बताया था कि तेलंगाना में 25 से 30 लाख प्रवासी मजदूर हैं और 2020 में लॉकडाउन के दौरान उनके जीवन पर बहुत बुरा असर पड़ा था. उन्होंने कहा था, 'अगर ये लोग (कामगार) फिर से चले जाएंगे, तो राज्य को बड़ा नुकसान होगा क्योंकि तेलंगाना को फसल की बुआई के मौसम में भारी संख्या में श्रमिकों की जरूरत है.'

    तेलंगाना और आंध्र प्रदेश को छोड़ दक्षिण भारत के सभी राज्यों में पूर्ण लॉकडाउन लगा हुआ है. तेलंगाना सरकार ने पिछले दो हफ्तों से राज्य में नाइट कर्फ्यू लगा रखा है, जबकि आंध्र प्रदेश ने 12 बजे दोपहर से लेकर अगले दिन सुबह 6 बजे तक के लिए आंशिक लॉकडाउन का ऐलान किया हुआ है.

    (इनपुट भाषा से भी)