होम /न्यूज /राष्ट्र /तेलंगाना:औरतों ने जलाई KCR की ओर से मिली साड़ियां

तेलंगाना:औरतों ने जलाई KCR की ओर से मिली साड़ियां

तेलंगाना में औरतों ने जलाई केसीआर की ओर से मिली साड़ियां
(IMAGE SOURCE: NEWS18)

तेलंगाना में औरतों ने जलाई केसीआर की ओर से मिली साड़ियां (IMAGE SOURCE: NEWS18)

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के साड़ी बांटने की स्कीम की हवा निकलती हुई दिखाई दे रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के साड़ी बांटने की स्कीम की हवा निकलती हुई दिखाई दे रही है. सोमवार को साड़ी बांटने के केन्द्रों पर लंबी समय तक कतारों में लगी महिलाओं ने एक दूसरे से हाथापाई शुरू कर दी. महिलाओं का आरोप है कि इन साड़ियों की क्वालिटी बहुत खराब है.

    प्रदेश की महिलाओं और बुनकरों को लुभाने के लिए प्रदेश सरकार ने 18 से 22 सितंबर के बीच बाथूकम्मा उत्सव के मद्देनज़र 1 करोड़ साड़िया बांटने का निर्णय लिया. इसके लिए सरकार 222 करोड़ रुपये खर्च कर रही है. लेकिन पासा उल्टा पड़ गया जब लंबे समय तक कतारों में लगी महिलाओं ने गुस्से में एक-दुसरे के बाल खींचने शुरू कर दिेए. इतना ही नहीं महिलाओं ने साड़ियों की होली जलाई, कुछ ने उससे गाड़ियां साफ की और कुछ ने साड़ियों को डस्टबिन में फेंक दिया.

    महिलाओं का कहना था कि उन्हें उम्मीद थी कि उन्हें अच्छी साड़ियां मिलेंगी लेकिन सरकार जो साड़ियां बांट रही है उनकी क्वालिटी बहुत खराब है. सरकार ने वादा किया था कि हमें हैण्डलूम की साड़ियां देगी लेकिन हमें 50 रुपये की साड़ी दी जा रही है. एक महिला बोलीं, "क्या मुख्यमंत्री की लड़की बाथूकम्मा उत्सव पर ऐसी साड़ी पहनेगी?"

    सरकार ने इस मामले में अपना पक्ष रखते हुए कहा कि ये विरोध प्रदर्शन राजनीति से प्रेरित है. सरकार ने इस पूरी योजना के लिए 222 करोड़ रुपये खर्च किए हैं. 52 लाख साड़ियां तेलंगाना के बुनकरों से खरीदी गई है और बाकी की साड़ियां सूरत व दूसरे अच्छी कपड़ा मिलों से मंगाई गई है. डिजाइन, रंग और क्वालिटी के मामले पर मुख्यमंत्री कार्यालय की महिलाओं ने विशेष ध्यान दिया है.

    बता दें कि इन सभी साड़ी के पैकेटों पर मंत्री के टी रामाराव की फोटो छपी हुई है. विपक्ष ने इसे साड़ी घोटाला करार दिया है और महिलाओं से अपील किया कि वो साड़ी को जलाने के बजाय उसे मुख्यमंत्री की पुत्री के पास भेज दें और उनसे अपील करें कि वो इसे बाथूकम्मा उत्सव पर पहनें.

    कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री केसीआर को ये बताना चाहिए कि सूरत के डीलर्स को जो ऑर्डर दिए गए थे उसके लिए क्या कोई टेंडर पास किया गया था.

    ये भी पढ़ें

    तेलंगाना के इस स्कूल में हेलमेट पहनकर क्लास लेते हैं टीचर्स
    पुजारी को आया सपना तो शिवलिंग के लिए पूरे गांव ने खोद डाला 15 फीट गहरा गड्ढा

    Tags: Congress, K Chandrashekhar Rao, Telangana

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें