अपना शहर चुनें

States

प्रतापगढ़: जमीन विवाद में एक व्यक्ति की मौत के बाद फैला तनाव, ग्रामीणों ने सड़क मार्ग किया जाम

विवाद की आशंका के चलते मुंगाणा के बाजार भी बंद हो गये. कस्बे को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है.
विवाद की आशंका के चलते मुंगाणा के बाजार भी बंद हो गये. कस्बे को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है.

प्रतापगढ़ जिले में जमीनी विवाद में एक व्यक्ति की मौत (Death) के बाद वहां तनाव फैल गया है. ग्रामीणों के गुस्से को देखते हुये वहां अतिरिक्त पुलिस बल (Additional police force) तैनात किया गया है. एसपी समेत अन्य आला अधिकारी मौके पर हालात को संभाले हुये है.

  • Share this:
प्रतापगढ़. आदिवासी बाहुल्य प्रतापगढ़ जिले के पारसोला थाना इलाके में जमीन के विवाद (Land dispute) के लेकर दो दिन पहले मंगलवार को झगड़े में घायल हुये एक व्यक्ति ने आज इलाज के दौरान अस्पताल में दम (Death) तोड़ दिया. घायल की मौत के बाद इलाके में तनाव फैल गया और ग्रामीणों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर मुंगाणा-धरियावाद सड़क मार्ग को जाम (Road Blocked) कर दिया है. वहीं मुंगाणा कस्बे के बाजार भी बंद हो गये हैं. हालात बिगड़ते देखकर पुलिस अधीक्षक समेत अन्य आला अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं. इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया है.

जानकारी के अनुसार इलाके के संगरिया कलां गांव में मंगलवार को जमीन के विवाद को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया था. देखते ही देखते विवाद ने उग्र रूप धारण कर लिया और वहां जमकर लाठियां और धारदार हथियार चले. इस झगड़े में एक पक्ष के शांतिलाल मीणा और लालू मीणा गंभीर रूप से घायल हो गये थे. उन्हें इलाज के लिये उदयपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. बताया जा रहा है कि सूचना के बाद भी थाना पुलिस ने कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं की. इस बीच इलाज के दौरान आज शांतिलाल मीणा की मौत हो गई. शांतिलाल की मौत की खबर सुनते ग्रामीण गुस्सा गये और उन्होंने मुंगाणा-धरियावाद सड़क मार्ग को जाम कर दिया. विवाद की आशंका के चलते मुंगाणा के बाजार भी बंद हो गये.

सावधान: यह विदेशी ठग फेसबुक पर दोस्ती कर बैंक खाता खाली कर देता है, जोधपुर पुलिस ने दिल्ली से दबोचा

पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों और ग्रामीणों में वार्ता का दौर जारी


सूचना पर मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी चुनाराम जाट सहित अन्य आला अधिकारी पुलिस जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे. हालात को देखते हुये मुंगाणा कस्बे में भारी तादाद में पुलिस जाब्ता तैनात कर उसे छावनी में तब्दील कर दिया गया. एसपी चुनाराम जाट ने ग्रामीणों से समझाइश का प्रयास किया, लेकिन वे अपनी मांगों पर अड़े हुये हैं. मामले को बढ़ता देख एडीएम गोपाललाल स्वर्णकार ने भी ग्रामीणों से वार्ता कर जाम खुलवाने का प्रयास किया लेकिन वे नहीं माने. फिलहाल इलाके में तनाव बना हुआ है. पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों और ग्रामीणों में वार्ता चल रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज